यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बाराबंकी में दुकान पर अकेली बैठी नाबालिग से दुष्कर्म


🗒 मंगलवार, अक्टूबर 26 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बाराबंकी में दुकान पर अकेली बैठी नाबालिग से दुष्कर्म

बाराबंकी, । जिले में एक शर्मनाक मामला सामने आया है। दुकान पर तेल खरीदने गए एक व्यक्ति ने वहां मौजूद एक नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म किया। बच्‍ची दुकान पर अकेली बैठी हुई थी। करीब एक घंटे बाद पहुंचे माता-पिता को बच्‍ची ने घटना की जानकारी दी। जिसके बाद उन्‍होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आरोपित को तत्काल गिरफ्तार कर लिया। वहीं आरोपित के समुदाय विशेष के होने के कारण क्षेत्र में तनाव व्याप्त हो गया है। वारदात के बाद बालिका की हालत गंभीर हो गई। पुलिस ने उसे सीएचसी में भर्ती कराया जहां से उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है।रामसनेहीघाट थाना के कस्बा में स्थित तेल निकालने वाली स्पेलर व चक्की की दुकान में संचालक अपने परिवार के साथ रहते हैं। सोमवार को वह पत्नी के साथ रिश्तेदार के यहां गए हुए थे और उसके बच्चे घर के बाहर गए थे। उनकी सबसे बड़ी दस वर्षीय पुत्री स्पेलर पर बैठी थी। शाम करीब साढ़े छह बजे सुमेरगंज के आबकारी मुहल्ला में रहने वाला 46 वर्षीय जमीले तेल खरीदने पहुंचा। यहां अनुसूचित जाति की इस बालिका को अकेला देख कर उसने दुष्कर्म किया और उसे किसी को न बताने की धमकी देकर भाग गया। वारदात के करीब एक घंटे बाद जब बालिका के मां-बाप पहुंचे तो उन्‍हें घटना की जानकारी हुई। जिसके बाद उन्‍होंने पुलिस को वारदात की सूचना दी। सक्रियता दिखाते हुए कोतवाल अजय कुमार त्रिपाठी ने आरोपित की तलाश में दबिश देते हुए उसे धर दबोचा।हीं, सीएचसी पहुंचाई गई बालिका को हालत गंभीर होने के व अधिक रक्तस्राव के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। कोतवाल ने बताया कि पीड़िता के पिता की तहरीर पर आरोपित पर दुष्कर्म, पाक्सो एक्ट और एससी-एसटी एक्ट के धारा में मुकदमा किया गया है। क्षेत्र में स्थिति पूरी तरह से सामान्य है।