यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मैनपुरी से बुक की गाड़ी, औरैया में लूट ली, बदायूं से गिरफ्तार


🗒 गुरुवार, जुलाई 21 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मैनपुरी से बुक की गाड़ी, औरैया में लूट ली, बदायूं से गिरफ्तार

बरेली, । आनलाइन गाड़ी बुक कर लूट करने वाले गिरोह का गुरुवार को बड़ा राजफाश हुआ है। आनलाइन गाड़ी बुक कर लूट करने वाले गिरोह ने मैनपुरी से हाथरस के रहने वाले युवक के नाम से गाड़ी बुक कराई। बरेली के सेटेलाइट पर गाड़ी मंगाई गई। यहां से आगरा के लिए चलने के लिए कहा गया। इसके बाद चालक को आगरा न ले जाकर औरैया ले जाया गया। वहां पर गिरोह के अन्य आरोपित आ गए और चालक को बंधक बनाकर सड़क किनारे डालकर गाड़ी लूट कर भाग खड़े हुए।11 जुलाई को मामले में बरेली के सुभाष नगर के रहने वाले गाड़ी मालिक की ओर से बारादरी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। जांच में पुलिस जुटी तो लूट करने वाले बड़े गिरोह का राजफाश हुआ। बारादरी पुलिस ने मामले में तीन आरोपितों बृजेश निवासी फकीरपुर मैनपुरी, शिवचरण उर्फ डाक्‍टर निवासी सूजापुर मैनपुरी, सुमित चौहान निवासी चढ़ावली अलीगढ़ को बदायूं जिले से गिरफ्तार कर लिया है। दो आरोपित पीलीभीत निवासी महिला गुरविंदर व मैनपुरी के बिछुला थाने के तीरपुरवा गांव का रहने वाला अरविंद फरार है। बारादरी पुलिस दोनों की तलाश में जुटी है।पूछताछ में सामने आया है कि आरोपित लुटेरे पति पत्नी बन कर गाड़ी लूट के इरादे से बुक करते हैं। बकायदा गिरोह में शामिल महिला गुरविंदर घटना को अंजाम देने में पूरा साथ देती है। बताया जाता है कि महिला का उसके पति से तलाक हो चुका है। वह वर्तमान में पीलीभीत आइटीआइ चौराहे के पास किराए के मकान में रहती है। संबंधित पते पर पुलिस ने दबिश दी तो वह फरार मिली।संजयनगर की सैनिक कालोनी में रहने वाले अरविंद कुमार गाड़ी मालिक हैं। आगरा में शादी समारोह में शामिल होने के लिए आनलाइन 10 हजार रुपये में गाड़ी बुक की। सुभाषनगर के करगैना प्रगति नगर के रहने वाले ड्राइवर आकाश गाड़ी लेकर निकले। छह जुलाई की रात दो बजे ड्राइवर से उनकी बात हुई तो वह टूंडला पहुंच चुके थे। ड्राइवर ने एक ढाबे पर खाना खाने के लिए रुकने की बात कही। इसके बाद से उसका फोन बंद जा रहा है। अरविंद ने आगरा, मथुरा व अन्य जगहों पर तलाश की लेकिन किसी के बारे में काेई जानकारी हाथ नहीं लगी। पांच दिन बीते दिन गए। तब अरविंद ने पुलिस को पूरी कहानी बताई।

बरेली से अन्य समाचार व लेख

» विपक्षी को फंसाने के लिए भाई के साथ मिलकर रची अपहरण की कहानी, तीन गिरफ्तार

» अंग्रेजी शराब के सेल्समैन के साथ हुई डकैती का राजफाश , छह गिरफ्तार

» भाजपा नेता के रिश्तेदार पर गैर संप्रदाय युवक ने किया जानलेवा हमला, छावनी में बदला क्षेत्र

» बरेली में मथुरा के संघ प्रचारक के साथ दारोगा ने की अभद्रता, पहले पीटा फिर बाइक पर घुमाया

» युवती के साथ नकदी व सोना लेकर आरोपित फरार