यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नौकरी लगवाने का झांसा देकर करोड़ों हड़पने वाला गिरफ्तार


🗒 शुक्रवार, दिसंबर 03 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
नौकरी लगवाने का झांसा देकर करोड़ों हड़पने वाला गिरफ्तार

बरेली,  जिला अस्पताल में नौकरी लगवाने का झांसा देकर करोड़ों रुपये हड़पने वाले आरोपित दीपक को बारादरी पुलिस ने आखिरकार गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस को आरोपित को पकड़ने में करीब चार महीने का समय लग गया। इस बीच आरोपित दिल्ली में रह रहा था। 31 जुलाई को आरोपित व उसके साथियों के खिलाफ बारादरी के नवादा शेखान के रहने वाले रामभरोसे ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रकम हड़पने के बाद आरोपित दिल्ली भाग गया था। मामले में तीन आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई थी।रामभरोसे ने 31 जुलाई को बारादरी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि आरोपित दीपक से उनकी मुलाकात दिल्ली में हुई थी। दीपक ने खुद को एनएबीएच का अधिकारी बताया। स्वास्थ्य विभाग में किसी भी पद पर आसानी से नौकरी लगवाने का झांसा दिया। आरोप है कि बात को पुख्ता करने के लिए उसने बागपत निवासी अपने साथी संदीप कुमार उर्फ संजय गुर्जर व राजेश कुमार से मुलाकात कराई थी। रामभरोसे को आरोपितों की बात पर भरोसा हो गया।इसी के बाद उन्होंने बेटे अनिल और भतीजे की नौकरी के लिए बात कर ली। दोनों की नौकरी के लिए 14 लाख रुपये में सौदा तय हुआ। आरोप है कि आरोपितों ने रकम लेकर टालमटोल शुरू कर दी। ठगी का अंदेशा होने पर रामभरोसे बारादरी थाने पहुंचे। आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोप है कि आरोपितों ने बड़े स्तर पर लोगों को नौकरी लगवाने का झांसा दिया और करोड़ों की रकम हड़प ली। इंस्पेक्टर बारादरी नीरज मलिक ने बताया कि आरोपित दीपक को जेल भेज दिया गया है। उसने ठगी की बात कुबूल की है।