यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गैंगस्टर को पकड़ने गई पुलिस ने स्वजनों संग की मारपीट, बेटी ने लगाई फांसी


🗒 रविवार, मई 01 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
गैंगस्टर को पकड़ने गई पुलिस ने स्वजनों संग की मारपीट, बेटी ने लगाई फांसी

चंदौली : सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर में रविवार को गैंगस्टर के आरोपित को पकड़ने गई सैयदराजा थाना की पुलिस ने घरवालों के साथ मारपीट की। आरोपित के न मिलने पर पुलिस उसके छोटे भाई को अपने साथ ले गई। आरोप है कि दबिश के दौरान पुलिस ने स्वजनों संग जमकर अभद्रता की। इससे क्षुब्ध होकर आरोपित कंहैया यादव की 27 वर्षीय बेटी गुड़िया ने जहां फांसी लगाकर अपनी जान दे दी वहीं छोटी बेटी गूंजा पुलिस की पिटाई से काफी जख्मी हो गई ।जानकारी पाकर क्षेत्र के लोग आक्रोशित हो उठे। ग्रामीणों ने जमानिया-सैयदराजा मुख्यमार्ग को मनराजपुर के पास सड़क जाम कर जमकर तांडव किया। गुजर रही एक एंबुलेंस के शीशे जहां लोगों ने तोड़ दिए वहीं बाइक से जा रहे दो पुलिस वालों से मारपीट की। इसमें एक सिपाही को गंभीर चोट आई है, जिसका इलाज कराया जा रहा है। घटना की जानकारी पाकर एसपी अंकुर अग्रवाल कई थानों की फोर्स संग मौके पर पहुंच गई। उत्तेजित लोगों को उन्होंने आश्वासन दिया कि मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक को सौंप दी गई है। पुलिस वाले दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। हालांकि एक घंटे बाद जाम समाप्त हो गया, लेकिन घटना की संजीदगी को देखते हुए घटनास्थल पर भारी संख्या में फोर्स तैनात है।ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि रविवार शाम लगभग चार बजे सैयदराजा थाना की पुलिस ने मनराजपुर निवासी गैंगस्टर एक्ट के आरोपित कंहैया यादव की गिरफ्तारी के लिए उनके घर में दबिश दी। कंहैया नहीं मिला तो उसके छोटे भाई को पुलिस ने पकड़ लिया। इस दौरान घर की महिलाओं ने विरोध किया तो महिला पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। इससे गूंजा वहीं बेहोश होकर गिर पड़ी। पुलिस के जाने के बाद आरोपित की बड़ी बेटी ने आत्महत्या कर लिया तो दूसरी की पुलिस की पिटाई से हालत गंभीर है। उसका इलाज चल रहा है। इससे संबंधित एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें युवती का शव पड़ा हुआ है और एक व्यक्ति बोल रहा है कि हमारी बड़ी बहन का पुलिस वालों ने हत्या कर दी है, हमको न्याय चाहिए।घटना की जानकारी क्षेत्रीय लोगों से पाकर सकलडीहा विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव भी मौके पर अपने समर्थकों संग पहुंच गए। उन्होंने पीड़ित परिवार के लोगों से बात की और इसकी जानकारी सपा प्रमुख अखिलेश यादव को दी। उन्होेंने आरोप लगाया कि आरोपित के न मिलने पर पुलिस ने घर वालों के साथ दरिंदगी की और बेटियों को धमकी दी। उधर घटना की गंभीरता की जानकारी पाकर डीएम संजीव सिंह भी पीड़ित के घर पहुंचे। इस बीच पूर्व सांसद रामकिशुन यादव के साथ सपा विधायक ने डीएम से इस पूरे मामले की न्यायिक जांच की मांग करते हुए उनके सामने कंहैया की छोटी बेटी से बात की । डीएम ने भी घटना को संजीदगी से लिया और पीड़ित परिवार को न्याय का भरोसा दिया।घटना की जानकारी पाकार सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि जिस पुलिस को असीमित अधिकार देकर योगी जी गुंडागर्दी करा रहे हैं एक दिन वही पुलिस भष्मासुर बनकर भाजपाइयों को भी नहीं बख्शेगी। लोकतंत्र में मर्यादा. राजधर्म व सुचिता होती है लेकिन इस भाजपा शासनकाल में सब खत्म हो चुका है।गैंगस्टर एक्ट के आरोपित कंहैया यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने शाम चार बजे दबिश दिया। वह नहीं मिला तो पुलिस आगे बढ़ गई। इसके बाद शाम छह बजे युवती के मौत से संबंधित वीडियो वायरल हुआ। इस मामले में जांच कराई जा रही है। पुलिस की लापरवाही सामने आती है तो कार्रवाई की जाएगी। प्रथम दृष्टया लग रहा है कि घरेलू कारण या आत्महत्या से युवती मौत हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी। शांति व्यवस्था के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल मौजूद है।  अंकुर अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक, चंदौली