यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चंदौली में तेलंगाना पुलिस के हत्थे चढ़े दो सट्टेबाज, पांच बैगों में बरामद हुए नौ करोड़


🗒 बुधवार, अगस्त 24 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चंदौली में तेलंगाना पुलिस के हत्थे चढ़े दो सट्टेबाज, पांच बैगों में बरामद हुए नौ करोड़

चंदौली : तेलंगाना पुलिस ने नगर में छापेमारी कर दो सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया। उनके पास से धोखाधड़ी व जालसाजी के पांच बैगों में पांच सौ व दो हजार के नौ करोड़ 81 लाख रुपये बरामद किए गए।पुलिस ने यह रुपये मुख्य आरोपित अभिषेक जैन के रविनगर स्थित कार्यालय से बरामद किया। इसके साथ ही अभिषेक के यहां काम करने वाले अलीनगर के आलमपुर के कैलाश यादव को भी हिरासत में लिया गया है। जालसाजों से जुड़े कई के मोबाइल की जांच भी पुलिस करने में लगी है। सट्टेबाजों ने राजस्थान के बीकानेर व भीलवाड़ में करंट खाता खोल रखा था। अचानक हुई कार्रवाई से चर्चाओं का बाजार गर्म रहा।मुगलसराय इंस्पेक्टर बृजेश तिवारी ने बताया कि तेलंगाना पुलिस की निशानदेही पर अभिषेक जैन व कैलाश यादव को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से जो रुपये बरामद हुए हैं, वह धोखाधड़ी, जालसाजी व हवाला के हैं। इसमें कैलाश यादव का मोबाइल फोन भी इस्तेमाल हुआ है। रुपये अभिषेक के यहां से बरामद हुए हैं।बताया कि अभिषेक एक एप के माध्यम से लोगों के पैसे इन्वेस्ट करता था। इसके झांसे में फंसने के लिए वह एक निर्धारित अवधि में राशि को दो गुनी करने का प्रलोभन देता था। आरोपित ने तेलंगाना राज्य के कई लोगों को अपने एप के माध्यम से ठगी का शिकार बनाया था। इस मामले में हैदराबाद के साइबर सेल में आरोपित के खिलाफ तेलंगाना पुलिस ने मुगलसराय स्थित उसके घर से धर दबोचा और आगे की कार्रवाई की।जालसाज आरोपित ने राजस्थान के भीलवाड़ा के आइसीआइ व एक्सेस बैंक के करंट एकाउंट से रुपये की लेता था। भीलवाड़ा में भी जालसाज का एजेंट काम करता था। राजस्थान में रुपये के लेन देने की जिम्मेदारी उसी एजेंट पर रहती थी। मुगलसराय में तेलंगाना पुलिस की कार्रवाई के बाद चर्चा यह है कि अब राजस्थान भी पुलिस पहुंच सकती है।मुख्य आरोपित अभिषेक जैन व उसके कर्मचारी कैलाश यादव का मोबाइल फोन कइयों का राज खोलगा। मोबाइल से ही आरोपित रुपये के लेन देन सहित लोगों को अपने जाल में फंसाने का काम करता था। हैदराबाद के साइबर सेल की टीम मोबाइलों की जांच पड़ताल करेगी। आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद इस धंधे में संलिप्त लोगों की धड़कन तेज हो गई है।तेलंगाना पुलिस की छापेमारी के बाद वाराणसी आयकर विभाग की टीम भी कोतवाली पहुंच गई। बरामद रुपयों की जांच की। साथ ही आरोपितों से अपने स्तर से पूछताछ की। इस बड़ी कार्रवाई के बाद यह संभावना जताई जा रही है कि मुगलसराय के कई रसूखदारों पर कार्रवाई की चाबुक चल सकती है।

चंदौली से अन्य समाचार व लेख

» विवाहिता का पति ही निकला कातिल, गला घोटकर कर दी हत्या

» पीडीडीयू जंक्शन पर दो किलो अफीम बरामद , महिला और पुरुष गिरफ्तार

» पुलिस टीम पर लाठी-डंडे से हमला, एसओ सहित सात पुलिस कर्मी घायल

» कर्बला से मिट्टी लाने के दौरान दो समुदायों में हुई झड़प

» चंदौली में पांच वाहन चोर गिरफ्तार