यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

डुप्लीकेट चाबी से खोलते थे पेट्रोल और डीजल के टैंकर,चारगिरफ्तार


🗒 बुधवार, अगस्त 11 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
डुप्लीकेट चाबी से खोलते थे पेट्रोल और डीजल के टैंकर,चारगिरफ्तार

चंदौली। अलीनगर पुलिस ने बुधवार को इंडियन आयल डिपो के पास एक अहाते में टैंकर से तेल चोरी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया। चार लोगों को गिरफ्तार किया और मौके से टैंकर से तेल निकालने के उपकरण सहित अन्य सामान बरामद किए। चारों ने पुलिस को बताया कि वे बीस वर्ष से तेल चोरी के धंधे में लिप्त हैं।अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम ने बताया 9 अगस्त की रात आठ बजे सूचना मिली कि अलीनगर इंडियन आयल गेट के समीप इस्तेहार के अहाते में तेल लदा एक टैंकर खड़ा है। उसमें कुछ लोग तेल की निकासी कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस व स्वाट टीम ने छापेमारी की लेकिन अंधेरा होने के कारण तेल निकालने वाले लोग फरार हो गए। पुलिस ने मौके से 20 हजार लीटर तेल भरा टैंकर, दस लीटर डीजल, तेल निकालने के उपकरण, दो टिन का खाली कनस्तर, तीन खाली प्लास्टिक की बाल्टियां, एक चाबी लगा ताला बरामद किया। जांच के दौरान मुगलचक निवासी मोहम्मद इश्तहार, अलीनगर निवासी धर्मेंद्र सिंह, रेवसा निवासी सजाउद्दीन व शहाबगंज थाना क्षेत्र के केराडीह निवासी सुरेंद्र सिंह दोषी इसमें दोषी मिले हैं। बुधवार की सुबह चारों आरोपित सकलडीहा मोड़ के समीप कहीं भागने की फिराक में खड़े थे लेकिन उन्हें गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में उन्होंने बताया वे डिपो से तेल भरा टैंकर बाहर लाकर अहाते में खड़ा करके डुप्लीकेट चाबी से टैंकर का ढक्कन खोल कर उपकरण की सहायता से तेल निकालकर उसे बेच देते हैं। करीब 20 वर्षों से वे यह काम कर रहे हैं। जंगलों में कांबिंग कर पुलिस मित्रों को किया अलर्ट : अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार, पुलिस और पीएसी बल के जवानों बुधवार को सोनभद्र की सीमा से सटे जंगलों में कांबिंग की। पुलिस मित्रों के साथ आमजन को भी अलर्ट किया। कहा जंगलों में कोई भी असामाजिक, अराजकतत्वों की गतिविधि दिखे तो तत्काल पुलिस को सूचित करें। ताकि समय रहते इस पर अंकुश लगाया जा सके। नौगढ़ के चिकनी, कहुअवाघाट, बैरगाढ़, पड़रिया आदि जंगल में बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी घंटों जंगलों में घूमे। यहां पशु अड़ार, गुफा और जल स्रोतों को चेक किया। यहां रहने वाले लोगों से पूछताछ की और संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में जानकारी ली। किसी भी घटना पर पुलिस 15 मिनट में मौके पर पहुंच जाएगी। इसलिए खुद को बचाते हुए पुलिस को जानकारी दें।