यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चोरी के बाद किशोर की हत्या कर चोरो ने फंदे पर लटकाया


🗒 गुरुवार, अक्टूबर 07 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चोरी के बाद किशोर की हत्या कर चोरो ने फंदे पर लटकाया

चंदौली। मुगलसराय कोतवाली के चतुर्भुजपुर, विजयनगर कालोनी में चोरों ने मीरजापुर के ढेवरी गांव निवासी चंद्रबली के घर को खंगाल डाला, विरोध करने पर उनके छोटे बेटे मनीष कुमार 17 की हत्या कर शव को पंखे से लटका दिया। मनीष घर में अकेला था, उसकी मां व बड़ा बेटा ननिहाल गए थे। गुरुवार को वे दोपहर बाद घर लौटे तो अंदर से कुंडी बंद थी। आवाज देने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला तो बड़ा बेटा आशीष छत से घर में आया। छोटे भाई का लटका शव देखकर रोने लगा, उसके शोर मचाने पर भीड़ जमा हो गई।परिवार के लोग अंदर गए तो घर में सारा सामान बिखरा था, आलमारी व बक्साें के ताले टूटे थे। मां बेटे का रो-राेकर बुरा हाल है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। एसएचओ आरआर उपाध्याय ने कहा पीएम रिपोर्ट के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। मीरजापुर जिले के ढेवरी निवासी चंद्रबली विजयनगर कालोनी में चार साल से मकान बनवाकर रहते हैं। चंद्रबली जयपुर स्थित आर्मी में तैनात हैं। उनकी पत्नी कंचन अपने दो बेटे आशीष व मनीष के साथ यहां रहती हैं। बुधवार की शाम चार बजे बड़े बेटे आशीष के साथ कंचन मायके चली गई थी और मनीष मकान में अकेले था। गुरुवार को दोपहर चार बजे के आसपास मां व बेटा वापस लौटे। दरवाजा अंदर से बंद था, आशीष ने कई बार मनीष को आवाज लगाई लेकिन, अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। कुछ देर बाद आशीष किसी तरह छत के सहारे अंदर पहुंचा। अंदर का नजारा देखकर वह सन्न रह गया।सीढ़ी व सभी कमरों के दरवाजे खुले थे और मेन गेट बंद था। वह रोते-बिलखते शोर मचाने लगा और मुख्य दरवाजा खोला। अंदर आई मां व अन्य पड़ोसियों ने एक कमरे में मनीष का शव चौकी पर घुटने के सहारे देखा, यह देखते ही मां बदहवास हो गई। घुटने के बल लटका था शव मनीष का शव चौकी पर घुटने के बल पंखे से लटका था। उसके बदन के कपड़े फटे थे और शरीर पर चोट के निशान थे। उसके शरीर से चौकी पर खून गिरा था। घर में तीनों कमरों में सामान बिखरा था, आलमारी, बक्से का ताला टूटा था। घर से थे वाकिफ, बेडशीट का बनाया फंदा विजयनगर कालोनी में चंद्रबली का मकान सुनसान स्थान पर है। कयास लगाए जा रहे कि घटना को अंजाम देने वाले चोर घर की स्थिति से पूरी तरह से वाकिफ रहे होंगे। वे छत के सहारे सीढ़ी से अंदर आए, विरोध करने पर वारदात को अंजाम दिया। उनकी संख्या भी अधिक रही होगी। पहले मनीष को मारपीट कर घायल कर दिया। इसके बाद बेडशीट का ही फंदा बनाकर उसे लटका दिया।वर्जन शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट होगी। वैसे पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है। आरआर उपाध्याय, प्रभारी निरीक्षक