चित्रकूट मे बेटी का प्रेम संबंध बना उसकी हत्या की वजह,RPF ने किया अरेस्ट

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चित्रकूट मे बेटी का प्रेम संबंध बना उसकी हत्या की वजह,RPF ने किया अरेस्ट


🗒 शनिवार, फरवरी 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चित्रकूट मे बेटी का प्रेम संबंध बना उसकी हत्या की वजह,RPF ने किया अरेस्ट

चित्रकूट, एक ऐसा निर्दयी पिता जिसने अपने हाथ आशीर्वाद के लिए न उठाकर अपनी संतान की हत्या के लिए उठाए.. एक ऐसा क्रूर पति जिसने अपनी ही पत्नी की हत्या की कल्पना कर डाली थी और परिवार का एक ऐसा मुखिया जो परिवार को जोड़ने के बजाय तोड़कर भागने की फिराक में था। अगर आप सोच रहे हैं ये तीनों गुण अलग-अलग इंसान के हैं तो नहीं, ये तीनों गुण एक ही इंसान के पत्थरदिल होने की गवाही देते हैं। अब अाप सोच रहे होंगे कि कोई इतना पत्थरदिल कैसे हो सकता है? तो आपको बता दें कि ऐसा हुआ है। दरअसल, बिहार प्रांत के कैमूर जिला का रहने वाला हत्यारोपित अपने पूरे परिवार को फिल्मी अंदाज में मौत के घाट उतारने को मुंबई ले गया था लेकिन वह एक बेटी को ही मार सका। जबकि पत्नी अपनी दूसरी बेटी को लेकर फौरन वहां से भाग निकली और उसने पुलिस की शरण ली।बता दें कि अजय सिंह कैमूर में रेलवे ठेकेदार के अंडर में काम करता है। उसकी तीन संतानें हैं और तीनों ही पुत्रियां हैं। एक बेटी का किसी से प्रेम संबंध था। जिसको लेकर अक्सर परिवार में लड़ाई होती थी। आरपीएफ प्रभारी के मुताबिक पूछताछ में अजय ने जानकारी दी है कि उसने फिल्म में देखा था कि एक व्यक्ति अपने परिवार को दूसरे शहर में ले जाकर मौत के घाट उतार देता है। वह भी अपने परिवार को मारने के लिए दो फरवरी को मुंबई घुमाने के बहाने ले गया था। जहां पर वह एक होटल में रुका था। शुक्रवार भोर चार बजे वह अपनी छह वर्षीय बेटी को होटल में सोता छोड़ दिया। पत्नी सुमन व अन्य दो किशोरी पुत्रियों के साथ घूमने चला गया। होटल से करीब दो किलोमीटर दूर नदी किनारे उसने एक बेटी की चाकू से हत्या कर दी। जिसे देख पत्नी दहशत में आ गई और दूसरी बेटी को लेकर भाग गई। मुंबई के जिला रायगड, पुलिस थाना खालापूर पहुंचकर उसने पुलिस को जानकारी दी।मानिकपुर आरपीएफ प्रभारी पीएस परिहार को शनिवार की सुबह मुंबई पुलिस से सूचना मिली कि एक व्यक्ति मुंबई में एक नाबालिग बेटी की हत्या करके किसी ट्रेन से मुगलसराय की ओर जा रहा है। दोपहर करीब साढ़े 12 बजे जनता एक्सप्रेस मानिकपुर जंक्शन पर पहुंची। आरपीएफ को कोच एस-नौ में संदिग्ध व्यक्ति बैठा मिला। जिसके साथ एक लगभग छह वर्षीय बच्ची भी थी। पूछताछ में उसने पहले गुमराह करना चाहा, लेकिन तलाशी में मिले आधार कार्ड व सेल्स एंड सर्विस इंडिया के पहचान पत्र से उसका नाम अजय सिंह ग्राम सरियाव जिला कैमूर (बिहार) पता चता। पूछताछ में उसने पुत्री की हत्या कर भागना स्वीकार किया।अजय ने सोचा था कि वह सभी को मारकर खुद कहीं भाग जाएगा। नाबालिग बेटी के प्रेम प्रसंग से वह काफी परेशान था। जिसका जिक्र एफआइआर में भी है। समाज हो रही बदनामी से पूरे परिवार को मौत का घटना उतारना चाह रहा था। 

चित्रकूट से अन्य समाचार व लेख

» चित्रकूट में नया मोबाइल खरीदने के लिए रुपये न मिलने पर किशोर ने खुद को गोली से उड़ाया

» दरवाजे पर दूल्हा लेकर आया बरात और दुल्हन ने थाम लिया प्रेमी का हाथ

» चित्रकूट में झाडफ़ूंक के लिए गई महिला के साथ ओझा ने किया दुष्कर्म

» चित्रकूट में पहले युवक को गला दबा तड़पाकर मारा फिर मुंह में कपड़ा ठूंसकर पत्थर से सिर कुचला

» चित्रकूट में कलह से परेशान युवक ने मौत को लगाया गले

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के 14 दिन के रिमांड को तामिला कराएगी पुलिस

» मेरठ में पत्नी का गला दबाने का आरोपित दिल्ली से गिरफ्तार

» मेरठ में महिला कांस्टेबल के साथ हैवानियत, जेठ ने फाड़े कपड़े, ससुर ने किया दुष्कर्म

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म