यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

देवरिया से सरेआम हुआ व्यवसायी का अपहरण


🗒 सोमवार, नवंबर 01 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
देवरिया से सरेआम हुआ व्यवसायी का अपहरण

देवरिया, । देवरिया जिले के मदनपुर क्षेत्र के कुसम्हा चौराहे से 31 अक्‍टूबर को दिनदहाड़े व्यवसायी के अपहरण के मामले में पुलिस ने पांच अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। देर रात अपर पुलिस अधीक्षक व सीओ ने स्वजन से घटना की जानकारी ली। पर्दाफाश के लिए एसओजी को भी लगाया गया है। 36 घंटे बाद भी पुलिस खाली हाथ है।बरहज के थानाक्षेत्र के ग्राम लबकनी वासु गांव के रहने वाले अरुण राय पुत्र हरिहर राय की मदनपुर थाना क्षेत्र के कुसम्हा चौराहे पर पशु आहार की दुकान है। 31 अक्‍टूबर को सुबह करीब 11 बजे स्कार्पियो सवार लोग अपने साथ लेकर चले गए। अपहृत की पत्नी सरिता की तहरीर पर पांच अज्ञात के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है।एसओजी आसपास के चौराहों की दुकान पर लगे सीसीटीवी के साथ ही टोल प्लाजा के फुटेज से अपहर्ताओं का सुराग लगाने में जुटी है। हालांकि अभी तक अपहर्ताओं का कोई सुराग नहीं लग पाया है। घटना के बाद से स्वजन अनहोनी की आशंका जता रहे हैं।स्वजन के मुताबिक, अरुण के पिता हरिहर राय मुंबई में प्राइवेट नौकरी करते थे। दोनो पुत्रों व पुत्री की पढ़ाई भी वहीं हुई। अरुण अपने छोटे भाई अजय के साथ नौकरी करते थे। दो-तीन वर्ष पूर्व वह नौकरी छोड़ कर मुंबई के नालासोपारा स्थित खान कंपाउंड स्थित चाल में कमरा खरीद कर उसमें दुकान खोल लिया। पिछले वर्ष लाकडाउन में घर आ गए। एक पखवारे पूर्व कुसम्हा चौराहे पर पशु आहार का व्यवसाय शुरू किया।युवक के अपहरण को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। अपहृत के एक करीबी की माने तो एक वर्ष के अंदर कृषि भूमि व गोरखपुर में प्लाट लेने के बाद से ही लोगों की निगाह में आ गए थे। आशंका जताई जा रही है कि खेत और प्‍लाट खरीदने की वजह से बदमाशों ने उनका अपहरण किया है।पुलिस के मुताबिक एक नवंबर को सुबह अरुण के मोबाइल से उनकी बहन प्रियंका के पास काल आई। काल करने वाले ने खुद को पुलिस बताया और अरुण के साथ होने की बात कही। इसके बाद मोबाइल स्विच आफ हो गया। लोकेशन लखनऊ-आगरा हाइवे पर मिला है।अपर पुलिस अधीक्षक राजेश सोनकर ने बताया कि अपहरण के मामले में पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। जल्द ही दोषी पकड़े जाएंगे।

देवरिया से अन्य समाचार व लेख

» फर्जी दस्तावेज बनाते हुए दो सगे भाई रंगे हाथ गिरफ्तार

» प्रधान के घर लिखी जा रही थी बोर्ड परीक्षा की कॉपियां, किशोर समेत नौ लोग गिरफ्तार

» दिनदहाड़े कैश वैन लूटने का प्रयास, गोली मारकर भाग रहे बदमाश को गार्ड ने मारी गोली, गिरफ्तार

» पोखरे में स्नान करने गए दो बच्चों की डूबने से मौत

» ट‍िकट कटने से फूट-फूटकर रोए सपा नेता