यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

4थे चरण में 26 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले, साक्षी महाराज पर सबसे अधिक


🗒 गुरुवार, अप्रैल 25 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

चौथे चरण में संसद पहुंचने के लिए 13 सीटों पर 152 उम्मीदवार जोर आजमाइश कर रहे हैं। इनमें से 26 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ गंभीर आपराधिक धाराओं में केस दर्ज हैं।वहीं करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या भी कम नहीं है। वहीं 57 उम्मीदवारों की संपत्ति 1 करोड़ या उससे अधिक है। 152 में से सात उम्मीदवारों के शपथपत्र का विश्लेषण नहीं किया जा सका है।एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म (इलेक्शन वॉच) की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक चौथे चरण में 21 प्रतिशत प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। जबकि 39 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं। एडीआर के यूपी हेड संजय सिंह ने बताया कि पिछले चरण के मुकाबले इस चरण में न सिर्फ आपराधिक छवि के प्रत्याशी बढ़े हैं बल्कि धनबल को भी राजनैतिक पार्टियों ने तरजीह दी है। प्रमुख दलों में भाजपा के 12 में से सात उम्मीदवारों पर आपराधिक केस दर्ज है। कांग्रेस के 12 में से 5 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं, सपा के 7 में से 3 और बसपा के 6 में से 2 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। 

4थे चरण में 26 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले, साक्षी महाराज पर सबसे अधिक

भाजपा के उन्नाव से प्रत्याशी साक्षी महाराज पर सबसे अधिक आपराधिक मामलों की धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। उनके खिलाफ 14 धाराओं में कुल 4 केस दर्ज हैं जबकि प्रगतिशील समाजपार्टी के प्रत्याशी उदय पाल सिंह के खिलाफ 10 गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। इन पर कुल 10 केस भी दर्ज हैं।वहीं धनबल के मामले में भाजपा के सभी 12 उम्मीदवार करोड़पति हैं, कांग्रेस के 12 में से 11 करोड़पति, बसपा के सभी 6 उम्मीदवार, सपा के सात में से 6 उम्मीदवार करोड़पति हैं। झांसी से चुनाव लड़ रहे अनुराग शर्मा के पास सबसे अधिक 124 करोड़ की संपत्ति है। दूसरे नंबर पर कांग्रेस की अनु टंडन हैं जो उन्नाव से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके पास 81 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति है। तीसरे नंबर कानपुर संसदीय क्षेत्र से शिवसेना के उम्मीदवार बलवीर सिंह चंदेल हैं जिनकी संपत्ति 66 करोड से अधिक है। 6 उम्मीदवारों ने अपना पैन घोषित नहीं किया है। 8 उम्मीदवारों ने अपनी वार्षिक आय 50 लाख से ज्यादा घोषित की है। सबसे कम सम्पत्ति वाले उम्मीदवारों में वंदना गुप्ता हैं जो भारतीय शक्ति चेतना पार्टी की खीरी संसदीय क्षेत्र से उम्मीदवार हैं। इनकी कुल सम्पत्ति 17000 रूपये है। हरदोई संसदीय क्षेत्र निर्दलीय से भैया लाल की कुल सम्पत्ति 20 हजार 500 है।

संजय सिंह ने बताया कि कुल चौथे चरण के कुल उम्मीदवारों का 37 प्रतिशत ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं से 12वी के बीच घोषित की है। जबकि 61 प्रतिशत उम्मीदवारों ने अपनी योग्यता स्नातक या उससे ज्यादा घोषित की है। जबकि दो उम्मीदवार ऐसे भी हैं जो निरक्षर हैं और दो ने केवल साक्षर बताया है।इस चरण में भी 145 में से केवल 18 महिलाएं ही मैदान में हैं। इसमें समाजवादी पार्टी केराष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी भी शामिल हैं जो कन्नौज से तीसरी बार मैदान में हैं। इस चरण में जिन 13 सीटों पर चुनाव होने हैं उसमें कन्नौज के अलावा अकबरपुर, इटावा, हमीरपुर, खीरी, शाहजहांपुर, फर्रुखाबाद, हरदोई, उन्नाव, जालौन, कानपुर, झांसी और मिश्रिख शामिल है।

चुनाव से अन्य समाचार व लेख

» वर्तमान लोकसभा मे 20 चेहरे पवेलियन में...किसी का टिकट कटा तो कोई लड़ नहीं रहा

» UP के तीन चरणों में दिग्गजों का बड़ा इम्तिहान

» भदोही संसदीय सीट से BJP प्रत्याशी ने हलफनामे में खुद को बताया बसपा का उम्मीदवार, सोशल मीडिया पर शपथपत्र वायरल

» लोकसभा चुनाव 2019 मे तीसरे चरण के समीकरणों ने बढ़ाई पुलिस की चिंता, कई दिग्गज मैदान में होने से बढ़ी संवेदनशीलता

» UP के में तीसरा चरण मे गठबंधन का इम्तिहान तो रिश्तों की परख भी

 

नवीन समाचार व लेख

» निदा खान के शौहर शीरान रजा खां ने की दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन से मारपीट

» जिला चंदोली मे बेकाबू ट्रक ने घर के बाहर सो रहे बुजुर्ग को रौंदा; चालक और क्लीनर फरार

» अलीगढ मे चार दिन से गायब बच्ची की हत्या; कूड़े के ढेर में मिला शव

» कानपुर मुठभेड़ में पुलिस की गोली से तीन बदमाश घायल; बाहुबली की हत्या में शामिल थे आरोपी

» लखनऊ पुलिस ने जब्त की 50 लाख की अवैध शराब, एक गिरफ्तार