यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दुल्हन का शादी से इंकार, दूल्हा बना बंधक


🗒 शुक्रवार, मई 06 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
दुल्हन का शादी से इंकार, दूल्हा बना बंधक

एटा , । उत्तर प्रदेश के एटा शहर में मुहल्ला भगीपुर में कासगंज से आई बरात में दूल्हा पहले से ही शादीशुदा निकला। सात फेरों से पहले उसकी पोल खुल गई। इसके बाद दुल्हन ने शादी से इनकार कर दिया। दूल्हा और दुल्हन पक्षों के बीच इस दौरान खूब तकरार हुई, दुल्हन पक्ष ने दूल्हा और उसके स्वजन को गेस्ट हाउस में बंधक बना लिया। शुक्रवार को दिनभर गेस्ट हाउस में पंचायत होती रही और समझौते के प्रयास चलते रहे। मगर देर शाम तक बात नहीं बनी।कासगंज कोतवाली क्षेत्र के गांव तिलसई खुर्द से संजय की बरात शहर के मुहल्ला भगीपुर में गुरुवार शाम आई थी। पहले तो सब कुछ ठीकठाक चलता रहा और जयमाला का कार्यक्रम भी हो गया तथा बारात भोजन भी कर चुकी थी। दूल्हा गेस्ट हाउस में मौजूद था। तभी किसी तरह से दुल्हन पक्ष के लोगों को यह पता चला कि संजय पहले से ही शादीशुदा है, उसकी पत्नी उसे छोड़कर चली गई है।यह बात जब दुल्हन को पता चली तो उसने शादी करने से इनकार कर दिया। दूल्हा और दुल्हन पक्षों में इस बात को लेकर तीखी नोंक-झोंक हुई। लड़की पक्ष के लोगों ने दूल्हा की पिटाई भी कर दी। यह घटनाक्रम सात फेरों से पहले रात 3 बजे हुआ।माहौल खराब होते देख दूल्हा पक्ष के अधिकांश बराती रात को ही अपने घरों पर लौट गए, सिर्फ दूल्हा और उसके स्वजन तथा कुछ रिश्तेदार ही रह गए। उन्होंने जब गेस्ट हाउस से बाहर निकलने की कोशिश की तो लड़की पक्ष ने बलपूर्वक रोक दिया और शुक्रवार को भी गेस्ट हाउस से नहीं निकलने दिया।तिलसई खुर्द के कुछ भी गेस्ट हाउस पहुंच गए और दिन में समझौते के प्रयास होते रहे। दोनों पक्षों में से शाम तक किसी ने भी पुलिस से संपर्क नहीं किया। शाम के वक्त किसी तरह पुलिस को सूचना मिली तो वह मौके पर पहुंच गई और दोनों पक्षों से बातचीत की, लेकिन समझौता नहीं हो पाया। बाद में पुलिस दोनों पक्षों को शहर कोतवाली ले आई और वहां भी समझौते के प्रयास किए जाते रहे।उधर दूल्हा ने बताया कि उसकी मौसी ने शादी तय कराई थी। हमें यह जानकारी नहीं कि मेरे विवाहित होने की जानकारी मौसी ने दुल्हन पक्ष को दी थी या नहीं। दुल्हन पक्ष दो लाख रुपये और सामान वापस करने की मांग कर रहा है।हमने 50 हजार रुपये और सामान वापस करने को कहा है, मगर लड़की पक्ष बात नहीं मान रहा। वहीं दुल्हन के भाई का कहना था कि हमें धोखे में रखा गया और संजय के शादीशुदा होने की बात नहीं बताई गई। शहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शंभूनाथ ने बताया कि अगर दोनों पक्ष अपनी तहरीर देते हैं तो पुलिस कार्रवाई करेगी। फिलहाल दोनों पक्ष समझौते का प्रयास कर रहे हैं।