यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एटा के हिस्ट्रीशीटर के गैंग ने लूटा था ट्रेलर, पर्दाफाश


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 15 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
एटा के हिस्ट्रीशीटर के गैंग ने लूटा था ट्रेलर, पर्दाफाश

एटा , । बुधवार देर रात शिकोहाबाद फ्लाईओवर के पास से लूटे गए सरिया से लदे ट्रेलर का पुलिस ने सात घंटे में पर्दाफाश कर दिया। सनसनीखेज लूट करने वाले एटा के हिस्ट्रीशीटर के गैंग के आठ साथी पकड़े गए। एसओजी और फरिहा पुलिस ने तीन बदमाशों को पकड़ने के साथ ट्रेलर भी बरामद कर लिया, वहीं पांच बदमाश एटा के पिलुआ थाना क्षेत्र में पकड़े गए हैं।बीते शुक्रवार आठ अक्टूबर की रात नौ बजे विशाखापत्तम से 22 टायर वाले ट्रेलर में 42 टन से ज्यादा सरिया लादकर रायपुर (छत्तीसगढ़) के कबीरपुर निवासी गुड्डू यादव मेरठ के लिए निकला था। 13 अक्टूबर बुधवार की रात लगभग दो बजे शिकोहाबाद फ्लाईओवर के पास बोलेरो और जायलो सवार बदमाशों ने ट्रेलर को ओवरटेक करके रोका। परिवहन विभाग की टीम होने के अनुमान लगाकर गुड्डू ने ट्रेलर रोक दिया। इसके बाद बदमाशों ने उसे दबोच लिया और ट्रेलर लेकर चल दिए। इसके बाद बदमाशों ने ड्राइवर को फरिहा के कौरारा गांव में एक खंडहर में बंधक बना दिया। गुरुवार शाम किसी तरह छूटकर फरिहा थाने पहुंचे ड्राइवर ने घटना की जानकारी दी। इसके बाद आनन-फानन में पुलिस टीम आपरेशन में लग गई।शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में एसएसपी अशोक कुमार शुक्ला ने बताया कि घटना को एटा के जिलाबदर हिस्ट्रीशीटर अनेक पाल उर्फ अनिल उर्फ अड़ंगा और उसके साथियों ने अंजाम दिया था। सात घंटे में पुलिस ने अनेक पाल, उसके साथी अतेंद्र सिंह निवासी जवाहरपुर पिलुआ एटा और रविश कुमार निवासी राजगढ़ थाना एका को गिरफ्तार कर लिया। तीनों की निशानदेही पर ट्रेलर बरामद कर लिया गया है। वहीं गैंग की सूचना पर पांच बदमाश पिलुआ (एटा) पुलिस ने गिरफ्तार कर लिए हैं। उन्हें लाने के लिए टीम रवाना कर दी गई है। बरामद लोहे की कीमत लगभग तीस लाख और ट्रेलर की कीमत 18 लाख रुपये हैं। सात घंटे में वारदात का पर्दाफाश करने वाली टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।एसएसपी ने बताया कि सनसनीखेज लूट करने वाला अनेक पाल एटा का शातिर बदमाश है। घटना की साजिश उसी ने रची थी। उसके खिलाफ एटा जिले में एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे हैं। एक जुलाई 2021 को छह माह के लिए वह जिलाबदर किया गया था। इसके बाद वह एका क्षेत्र में छुपकर रह रहा था।

एटा से अन्य समाचार व लेख

» दुल्हन का शादी से इंकार, दूल्हा बना बंधक

» एक युवती-दो प्रेमी, प्रेम प्रसंग में हुई प्रदीप की हत्या

» एटा में हादसे के बाद हंगामा, निधौली कलां थाना पर बवाल, पथराव-फायरिंग

» ग्राम प्रधान के बेटे ने युवक को दागा गोलियों से

» चार साल के बालक की हत्या कर शव भूसे में दबाया