यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एटा में हादसे के बाद हंगामा, निधौली कलां थाना पर बवाल, पथराव-फायरिंग


🗒 शनिवार, मार्च 19 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
एटा में हादसे के बाद हंगामा, निधौली कलां थाना पर बवाल, पथराव-फायरिंग

एटा, । एटा जनपद में थाना पिलुआ क्षेत्र में हुए सड़क हादसे में हुई ग्रामीण की मौत के बाद ग्रामीणों ने निधौली कलां थाना घेर लिया और पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए पथराव किया। इस दौरान पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ीं और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए फायरिंग भी करनी पड़ी। बाद में ग्रामीणों ने ब्लाक तिराहे पर जाम लगा दिया। निधौली कलां में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।थाना निधौली कलां क्षेत्र के गांव कासिमपुर निवासी 50 वर्षीय वीरपाल अपने गांव शनिवार शाम बाइक से अपनी पत्नी विमला देवी के साथ जा रहे थे, तभी सामने से आ रही ईको कार ने टक्कर मार दी, जिससे दोनों घायल हो गए। परिवार के लोगों को जब सूचना मिली तो मौके पर पहुंच गए और घायल अवस्था में वीरपाल व उनकी पत्नी को निधौली कलां सीएचसी पर ले आए, जहां उनकी मौत हो गई।बताया गया है कि परिवार के लोग ग्रामीणों के साथ निधौली कलां थाने पहुंचे और मामले की सूचना दी तथा पंचनामा भरने के लिए कहा। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस कर्मियों ने उनकी बात अनसुनी कर दी और कहा कि मामला थाना पिलुआ क्षेत्र का है इसलिए पिलुआ पुलिस ही पंचनामा भरेगी।इस बात को लेकर पुलिस और ग्रामीणों में विवाद होता रहा। थोड़ी देर बाद थाने पर ग्रामीणों की भीड़ और ज्यादा एकत्रित हो गई और थाने का घेराव होने लगा। उस समय थाने पर फोर्स कम था। ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया, पुलिस ने अपने बचाव में हवाई फायरिंग की तथा लाठियों के बल पर ग्रामीणों को खदेड़ दिया।इस दौरान आसपास के थानों का फोर्स भी निधौली कलां पहुंच गया और थाने के आसपास जमा भीड़ को तितर-बितर कर दिया। इसके बाद ग्रामीण ब्लाक पर एकत्रित हो गए तथा उन्होंने ब्लाक तिराहे पर जाम लगा दिया। निधौली कलां थाना प्रभारी हेमंत कुमार का कहना था कि ग्रामीण पुलिस की बात सुनने को तैयार नहीं थे, घटना पिलुआ थाना क्षेत्र में हुई, इतना ही ग्रामीणों को बताया गया। इसके बाद पुलिस समझाती रही, मगर ग्रामीण उपद्रव करने पर उतारू हो गए।सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक धनंजय कुशवाह व कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया और लोगों को समझाने की कोशिश की जा रही है। ग्रामीणों द्वारा किए गए पथराव के दौरान फिलहाल दो पुलिस कर्मी मामूली घायल बताए जा रहे हैं, लेकिन कुछ ग्रामीणों के भी लाठीचार्ज में चोटें आना बताईं हैं। एएसपी ने बताया कि ग्रामीणों को समझाया जा रहा है, अब स्थिति नियंत्रण में है।उधर मारहरा विधायक वीरेंद्र लोधी भी पहुंच गए और ग्रामीणों से बातचीत कर जाम खुलवाने का प्रयास करते रहे। बवाल में घायल हुए किसी भी व्यक्ति काे देर शाम तक मेडिकल कालेज नहीं लाया गया।