यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ढाबे पर पकड़ा गया तीन हजार लीटर चोरी का डीजल


🗒 मंगलवार, सितंबर 07 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
ढाबे पर पकड़ा गया तीन हजार लीटर चोरी का डीजल

इटावा , । इटावा में एक ऐसा ढाबा पुलिस ने पकड़ा, जहां पर टैंकरों से चोरी करके डीजल लाकर बेचा जाता था। पुलिस को मुखबिर से जानकारी मिली, फिर प्लान बनाकर पुलिस ने मंगलवार की रात नेशनल हाईवे पर इटावा-जसवंतनगर के मध्य फौजी ढाबा पर पुलिस ने छापा मारकर तीन हजार लीटर डीजल चोरी का पकड़ा है। मामले में चार टैंकरों को भी पकड़ा गया है। इन टैंकरों से डीजल निकालकर ढाबे पर बेचा जाता था।सीओ जसवंतनगर राजीव प्रताप सिंह ने बताया कि पुलिस को कई दिन से सूचना मिल रही थी कि फौजी ढाबे पर डीजल चोरी का काम बड़े पैमाने पर किया जाता है। इसी को लेकर मंगलवार की रात को क्राइम ब्रांच प्रभारी जितेंद्र प्रताप सिंह के साथ पुलिस ने छापा मारा और ढाबे के पीछे एक टैंकर को ड्रमों में डीजल निकाले हुए पकड़ लिया। उसके बाद तीन टैंकर और आ गए उनसे भी डीजल रात में निकाला जाना था। ढाबा मालिक छापा पड़ते ही भाग गया। पुलिस ने टैंकरों के स्टाफ सहित ढाबे पर काम करने वाले लोगों समेत करीब 15 लोगों को पकड़ लिया। यह टैंकर रिलायंस कंपनी के हैं और कानपुर से मथुरा जा रहे थे। टैंकरों में 70 हजार लीटर डीजल भरा हुआ था।एसएसपी डा. बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि पकड़े गए लोगों से अभी पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद पूरे नेटवर्क का पता चल सकेगा।

इटावा से अन्य समाचार व लेख

» महिला ने पति को खंभे से बांधकर पीटा

» कोयला लदी मालगाड़ी के 12 वैगन पलटे

» आटो में डंपर ने मारी टक्कर, दो की मौत

» कार चालक को बंधक बनाकर दो लाख लूटे

» सूचना पर पहुंची पुलिस पर जानलेवा हमला

 

नवीन समाचार व लेख

» गरीब किसान की जमीन पर कब्ज़ा करने के लिए भूमाफिया ने खेतों आगे रोड किनारे परती जमीन पर आश्रम बना रहा जहां लगा रहता है नशेड़ियों का जमवाड़ा,

» भाजपा ने किया सराहनीय कार्यों के लिए समाजसेवियों का सम्मान

» भगवान शिव मंदिर का मनाया आठवां वार्षिकोत्सव

» 41 दिवसीय आयोजन की तैयारियां शुरू पार्थिव शिवलिंग निर्माण महोत्सव हेतु किया भूमि पूजन

» चंदोदय मंदिर में आयोजित दंड महोत्सव पानीहाटी दही चिड़ा में उमड़ा जन सैलाब