यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

इटावा में परिजनों ने किशोरी का शव नदी में बहाया


🗒 शुक्रवार, जनवरी 14 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
इटावा में परिजनों ने किशोरी का शव नदी में बहाया

इटावा, । थाना बलरई क्षेत्र के अंतर्गत बीहड़ में स्थित गांव खदिया में एक किशोरी की हत्या कर स्वजन द्वारा शव को यमुना नदी में बहा देने का मामला सामने आया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। नदी से किशोरी के शव की बरामदगी को लेकर पुलिस के अफसरों ने गोताखोरों की टीम लगाई है लेकिन शव बरामद नहीं हुआ। हालांकि पुलिस आत्महत्या का मामला मान रही है।ग्राम खदिया की 14 वर्षीय किशोरी शीतल पुत्री रक्षपाल सिंह समीप के गांव बाउथ में एक परिषदीय विद्यालय में पढ़ती थी और गुरुवार अपरान्ह तीन बजे स्कूल से घर वापस लौटी थी। किशोरी की हत्या कर शव को एक बोरे में बंद कर यमुना नदी में बहा देने की सूचना किसी अज्ञात व्यक्ति ने पुलिस को गुरुवार की रात्रि को फोन पर दी। इस पर सीओ राणा महेंद्र सिंह व बलरई थानाध्यक्ष विवेक कुमार सिंह किशोरी के घर पहुंचे और घर के लोगों से पूछताछ की। रात अधिक हो जाने के कारण पुलिस कुछ नहीं कर सकी। शुक्रवार को दोपहर से किशोरी की फिर छानबीन यमुना नदी में गोताखोरों के माध्यम से शुरू कराई गई लेकिन शाम तक शव नहीं मिला।एएसपी सिटी कपिल देव सिंह ने बताया कि किशोरी की मां ने उसकी मौत होना स्वीकार किया है। घर के पुरुष सदस्य भाग गये हैं। शुरूआती चर्चाओं में किशोरी द्वारा फांसी पर लटक कर आत्म हत्या कर लेने का मामला संज्ञान में आया था। मगर शव गायब किये जाने को लेकर उभरी शक की सुई के कारण उसकी हत्या कर दिया जाना सामने आया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मृतक किशोरी के परिजनों ने गांव में किसी को बताए बगैर उसके शव को एक बोरे में बंद कर यमुना नदी में बहा दिया गया गया। फिलहाल इस मामले में अभी जांच चल रही है।