यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अयोध्या में पटरी से उतरा सियालदह एक्सप्रेस का इंजन हादसे में छह निलंबित


🗒 गुरुवार, मार्च 19 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सियालदह से जम्मूतवी जा रही सियालदह एक्सप्रेस का इंजन गुरुवार को अयोध्‍या के पटरंगा रेलवे स्टेशन पर बेपटरी होने के मामले में उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल प्रशासन ने अपनी प्रारंभिक जांच पूरी कर ली, जबकि विस्तृत जांच के लिए एक कमेटी बना दी गई है। इस मामले में लापरवाही बरतने के मामले में छह कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, ट्रेनों के बदले रूट पर चलने के कारण रेलवे ने यात्रियों के लिए जलपान की व्यवस्था कई स्टेशनों पर की। गुरुवार को ट्रेन संख्या 13151 कोलकाता-जम्मूतवी (सियालदह एक्सप्रेस) का इंजन पटरंगा स्टेशन पहुंचते ही बेपटरी हो गया था। इस इस कारण यह रेलखंड सुबह 10:30 से दोपहर सवा तीन बजे तक बंद रहा। सियालदह एक्सप्रेस को फैजाबाद वापस ले जाकर सुलतानपुर के रास्ते लखनऊ भेजा गया, जबकि धनबाद से आ रही गंगा-सतलज एक्सप्रेस भी बदले रूट से आई। वहीं, 54333/34 वाराणसी-लखनऊ पैसेंजर सुलतानपुर के रास्ते चली। इस मामले में दो रेल पथ निरीक्षक, दो सिगनल इंस्पेक्टर और एक यातायात निरीक्षक व लोको इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया है।अयोध्या में सियालदह से जम्मूतवी जा रही सियालदह एक्सप्रेस का इंजन गुरुवार को बेपटरी हो गया। इंजन के पटरी से उतरते ही बोगी में बैठे यात्रियों को तीव्र झटका लगा। हादसे के बाद यात्रियों में कोहराम मच गया। हालांकि ट्रेन की रफ्तार धीमी होने के कारण बोगियां सुरक्षित बच गईं और उनमें बैठे यात्री भी। यदि ट्रेन तेज गति में होती तो बड़ा हादसा होता। बेपटरी ट्रेन पटरंगा रेलवे स्टेशन के निकट हुई। गाड़ी संख्या 13151 अप सियालदह एक्सप्रेस गुरुवार को लखनऊ की ओर जा रही थी। ट्रेन का इंजन पटरंगा रेलवे स्टेशन के करीब थाना गेट के पास पटरी से उतर गया।एक घंटे बाद रेलवे अफसरों की टीम मौके पर पहुंची और राहत कार्य शुरू कराया। लगभग दो घंटे तक घटनास्थल पर ट्रेन खड़ी रही। अयोध्या स्टेशन से दूसरा इंजन मंगाकर ट्रेन को वापस फैजाबाद वाया सुलतानपुर के रास्ते लखनऊ रवाना किया गया। हादसे के बाद पटरी की मरम्मत का कार्य शुरू हुआ और शाम पांच बजे के बाद रेल यातायात सामान्य हो सका। हादसे के बाद यात्रियों की पलभर के लिए सांसें थम गई। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। इस दुर्घटना में किसी यात्री को चोट नहीं आई है। सभी सुरक्षित है। स्थानीय रेल अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों को सूचित किया। हादसे की सूचना पाकर पहुंचे डीआरएम संजय त्रिपाठी ने हालात का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि प्रथम  दृष्‍टया हादसा पटरी की खामियों के कारण लगता है, लेकिन कुछ सटीक नहीं कहा जा सकता है। इसके लिए उच्चस्तरीय जांच कराई जा रही है। रिपोर्ट मिलने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। सहायक पुलिस अधीक्षक निपुण अग्रवाल, तहसीलदार न्यायिक मनोज ङ्क्षसह व राजस्व निरीक्षक राम दुलारे तिवारी भी घटना स्थल पर पहुंचे।  

अयोध्या में पटरी से उतरा सियालदह एक्सप्रेस का इंजन हादसे में छह निलंबित

फैजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» प्रधानमंत्री के स्वागत में घी के दियों से रोशन होगी रामनगरी

» पीएम नरेंद्र मोदी के आगमन से बदलेगी रामनगरी की तस्वीर, देंगे कई सौगात

» अयोध्या में 300 सिम के साथ युवक गिरफ्तार पुलिस कर रही पड़ताल

» अयोध्या के राम मंदिर के भूमि पूजन की तारीख तय, PMO भेजा गया प्रस्ताव

» राममंदिर निर्माण से जुड़ी सरगर्मी शिखर की ओर

 

नवीन समाचार व लेख

» राजधानी में हिस्ट्री शीटर दोस्त संग लापता, अपहरण का आरोप; परिवारजन ने किया हंगामा

» शर्तों के साथ होम आइसोलेशन सुविधा बुजुर्ग व रोगियों से बनानी होगी दूरी

» सीएम गहलोत का फैसला, राजस्थान में CBI सीधे नहीं कर सकेगी जांच

» यूपी में छह आईएएस अफसरों के तबादले, एसवीएस रंगाराव बने आयुक्त देवीपाटन मंडल

» स्वच्छ पेयजल हर नागरिक का अधिकार और सरकार इसके लिए संकल्पबद्ध - CM योगी