यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शंखध्वनि से राष्ट्रीय उत्सव में तब्दील जनता कर्फ्यू, इकबाल अंसारी ने ताली बजाकर लिया हिस्सा


🗒 सोमवार, मार्च 23 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कोरोना वायरस के पैर पसारने के बीच उसे रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जनता कर्फ्यू का आह्वान अयोध्या में पूरी तरह प्रभावी दिखा। शाम पांच बजे जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीण अंचलों में शंखध्वनि से लेकर घंटा घडिय़ाल की ध्वनि झंकृत होती रही। आम लोगों सहित लेकर सांसद, महापौर व विधायक से लेकर जिले के सभी प्रमुख सियासतदान इस मुहिम का हिस्सा बने। सांसद लल्लू सिंह ने भी अपने सआदतगंज स्थित आवास पर थाली बजा कर कोरोना के विरुद्ध मुहिम को गति दी। वहीं, बाबरी मस्जिद के मुद्दई रहे इकबाल अंसारी ने भी प्रधानमंत्री के आह्वान के क्रम में शाम पांच बजे अपने आवास पर ताली बजाते हुए कर्मवीरों का अभिनंदन किया। महापौर रिषिकेश उपाध्याय ने शाम पांच बजते ही उन्होंने पत्नी के साथ अयोध्या स्थित अपने आवास पर शंखध्वनि की।  विधायक रामचंद्र यादव, वेद गुप्त, इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू, शोभा सिंह चौहान, गोरखनाथ बाबा ने ताली व थाली बजाकर कोरोना के विरुद्ध मुहिम को परवान चढ़ाया। कौशलपुरी में प्रधानाचार्य आलोक तिवारी ने शंखध्वनि की तो अनेक बच्चों ने थाली, प्लेट बजाने के साथ ही करतल ध्वनि से कोरोना के समापन को प्रयासरत चिकित्सकों, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों का आभार जताया।अयोध्या राजपरिवार के सदस्य व राष्ट्रीय ख्याति के कवि-कलाविद् यतींद्र मिश्र ने भी परिवार के अन्य सदस्यों के साथ पांच मिनट तक करतल ध्वनि की। प्रख्यात कवयित्री मानसी द्विवेदी ने भी शंखनाद कर कोरोना की चुनौती स्वीकार की। खिरौनी में शिक्षक वैष्णवानंद दुबे, अधिवक्ता दीपक सिंह, पुष्पेंद्र पांडेय, ड्योढ़ी में पुष्कर सिंह तथा अनेक व्यापरियों ने थाली बजाकर इस मुहिम को आगे बढ़ाया। श्रीआध्यात्म शक्तिपीठ मुबारकगंज में पीठ के मुख्य अर्चक सुधीर पांडेय की अगुवाई शंखनाद किया गया तथा घंटा घडिय़ाल बजाकर इस मुहिम को धार दी गई। रामनगर कॉलोनी में सिंधी समाज की ओर से सामूहिक तौर पर घंटा-घडिय़ाल एवं शंख वादन आकर्षण का सबब बना।सायंकाल पांच बजे नाका हनुमानगढ़ी में महंत रामदास की अगुवाई में घंटा घडिय़ाल व इलेक्ट्रानिक यंत्रों को पांच मिनट तक तेजी से बजाया गया। प्रधानमंत्री के राष्ट्र के नाम संबोधन में की गई घोषणा के अनुरूप संतों ने अपनी अपनी छत पर खड़े होकर शंखनाद किया। व्यापक स्तर पर शंखनाद, घंटा घडिय़ाल व करतल ध्वनि की समवेत ध्वनि से माहौल में एक नई तरंग महसूस हो रही थी। रामलला के मुख्य अर्चक आचार्य सत्येंद्रदास, रामवल्लभाकुंज के अधिकारी राजकुमारदास, अयोध्या स्थित बजरंगबली की प्रधानतम पीठ हनुमानगढ़ी परिसर स्थित आवास पर संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री महंत गौरीशंकरदास ने दर्जनों सहयोगियों के साथ घड़ी-घंट एवं विजय-घंट बजाकर कोरोना को पस्त करने का शंखनाद किया। तपस्वी जी की छावनी के उत्तराधिकारी महंत परमहंसदास, गुरुद्वारा ब्रह्मकुंड के मुख्यग्रंथी ज्ञानी गुरुजीत ङ्क्षसह, जगद्गुरु रामानुजाचार्य आचार्य रत्नेश, मधुकरी संत मिथिलाबिहारीदास आदि ने शंख ध्वनि से प्रधानमंत्री के आह्वान को बुलंद किया।

शंखध्वनि से राष्ट्रीय उत्सव में तब्दील जनता कर्फ्यू, इकबाल अंसारी ने ताली बजाकर लिया हिस्सा

फैजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर सफाई कार्य ने गति पकड़ी, शनिवार से शुरू हो सकता है मंदिर निर्माण कार्य

» सीएम योगी ने कहा- अवधपुरी को वैभवशाली नगरी बनाने के लिए प्रतिबद्ध

» आधारशिला रखने के साथ पीएम नरेंद्र मोदी ने राम नगरी अयोध्या में रच दिया इतिहास

» बजरंगबली को माथा टेक PM मोदी ने मांगी रामकाज की अनुमति

» संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- संकल्प पूरा हुआ, सबके राम और सबमें राम

 

नवीन समाचार व लेख

» बिकरू कांड में सामने आई पुलिस की एक और चूक, मुकदमे में नहीं दफा 34

» मेरठ में गर्भ में लड़की का पता होने पर विवाहिता को पीट-पीटकर घर से निकाला,

» मेरठ के भाजपा विधायक ने खोया आपा, कहा- लव-जिहाद करने वाला कोई जिंदा नहीं बचेगा, सब जाएंगे ऊपर

» मेरठ में भाजपा विधायक के पास विदेश से आई कॉल, 15 अगस्‍त को माहौल बिगाड़ने की हो रही साजिश

» बड़ागांव में पति ने पत्नी की गला दबाकर की हत्या, पांच लोगों पर दहेज हत्या का एफआइआर