यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

श्रीराम मंदिर को लेकर भक्तिभाव में डूबे सीएम योगी, कहा- पूर्ण हो रही कई शताब्दियों की प्रतीक्षा


🗒 सोमवार, अगस्त 03 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
श्रीराम मंदिर को लेकर भक्तिभाव में डूबे सीएम योगी, कहा- पूर्ण हो रही कई शताब्दियों की प्रतीक्षा

राम मंदिर निर्माण को लेकर जहां देशभर में उत्साह का माहौल है, वहीं उत्तर प्रदेश के संत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भक्तिभाव में डूबे नजर आ रहे हैं। श्रीराम मंदिर आंदोलन से गोरक्षपीठ के जुड़ाव के चलते उन्हें यह खुद का स्वप्न पूरा होता लग रहा है। सोमवार को श्रीराम मंदिर के शिलान्यास की तैयारियों का अयोध्या में जायजा लेने के साथ ही सीएम योगी ने कई चौपाइयां और श्लोक ट्वीट कर अपनी भावनाएं व्यक्त कीं।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक ट्वीट में लिखा कि अवधपुरी में श्रीराम मंदिर की स्थापना के लिए दादागुरु ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज और पूज्य गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज आजीवन समर्पित रहे। आज जबकि यह स्वप्न साकार हो रहा है तो हुतात्माद्वय को असीम संतोष की अनुभूति हो रही होगी।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कई शताब्दियों की प्रतीक्षा अब पूर्ण हो रही है। व्रत फलित हो रहे हैं, संकल्प सिद्ध हो रहा है। सभी श्रद्धालु घर पर दीप जलाएं। श्रीरामचरितमानस का पाठ करें। प्रभु श्री राम का आशीष सभी जनों को प्राप्त होगा। एक ट्वीट में सीएम योगी ने संस्कृत भाषा की महिमा बखान करते हुए लिखा- संस्कृतं भारतस्य आत्मा। एषा भाषा न केवलं भारतीय-भाषाणां पोषिका अपितु अस्माकं संस्कृते: सभ्यताया: मार्ग-दर्शिका मानवीय-मूल्यानाम् आदर्शाणाम् सुसंस्काराणां संदर्शिका अथ च अपूर्वस्य ज्ञान-विज्ञानस्य संधानिका वर्तते। शुभस्य संस्कृत-दिवसस्य शुभाशया:। जयतु संस्कृतं जयतु भारतम्!एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा- जय राम सदा सुख धाम हरे। रघुनायक सायक चाप धरे।। भव बारन दारन सिंह प्रभो। गुन सागर नागर नाथ बिभो।।धर्मनगरी अयोध्या में आज मां सरयू का दर्शन-पूजन कर शाश्वत सनातन संस्कृति के उत्कर्ष हेतु आशीर्वाद मांगा। पुण्यसलिला मां सरयू सभी को अपनी कृपा से अभिसिंचित रखें। सरयू मइया की जय! उन्होंने ट्वीट के जरिए यह भी बताया कि भाद्रपद कृष्ण पक्ष द्वितीया, विक्रम संवत 2077 यानी पांच अगस्त, 2020 को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा श्री राम मंदिर का भूमिपूजन होगा। इसके लिए धर्मनगरी अयोध्या में हो रही तैयारियों की स्थलीय समीक्षा की।उपमुख्यमंत्री डॉ.दिनेश शर्मा ने राम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन के संबंध में सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमिपूजन करेंगे। कोरोना संक्रमण की वजह से सीमित संख्या में ही आमंत्रण दिए गए हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कार्यक्रम में शारीरिक दूरी का पालन हर हाल में कराया जाना है। श्रद्धालु संचार माध्यमों से घर बैठकर इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बन सकते हैं।

फैजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» बेरोजगारी को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले 5 शातिर गिरफ्तार

» पशुधन घोटाले में भगोड़ा घोषित IPS अरविंद सेन के पैतृक आवास पर बजी डुगडुगी

» श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते से 6 लाख रुपये की ठगी करने वाले चार गिरफ्तार

» श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जारी की अधिसूचना

» नृपेंद्र मिश्र ने की मंदिर निर्माण में प्रगति की समीक्षा, करीब तीन घंटे क‍िया स्थलीय निरीक्षण

 

नवीन समाचार व लेख

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कहा- अधीनस्थ न्यायिक अफसर के ज्ञान पर प्रतिकूल टिप्पणी का अधिकार नहीं

» उत्तर प्रदेश में 17 जिलों के DIOS समेत 47 शिक्षा अधिकारियों के तबादले

» सुप्रीम कोर्ट में सरकार का हलफनामा, कहा- नए कृषि कानूनों को वापस लेना उचित नहीं

» जौनपुर में कोरियर कंपनी के कैशियर से पांच लाख रुपये की लूट

» किसानों की तबाही का जश्न मना रही भाजपा सरकार - अखिलेश यादव