यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अयोध्या आए आगरा निवासी 12 लोग सरयू नदी में डूबे, छह की मौत


🗒 शुक्रवार, जुलाई 09 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
अयोध्या आए आगरा निवासी 12 लोग सरयू नदी में डूबे, छह की मौत

अयोध्या, । सरयू नदी में शुक्रवार को एक बड़ा हादसा हो गया। आगरा से रामनगरी दर्शन के लिए आए एक ही परिवार के 12 सदस्य नदी में डूब गए। हादसे में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन लोग अभी लापता हैं। तीन डूबने वालों को बचा लिया गया जिनमें एक सात साल की बच्ची भी शामिल है। लापता लोगों की तलाश के लिए एसएसपी शैलेश पांडेय के नेतृत्व में जल पुलिस लगातार रेस्क्यू कर रही है। यह हादसा पौराणिक स्थल गुप्तारघाट के करीब हुआ। हादसे की सूचना पाकर आईजी रेंज डॉ. संजीव गुप्त, डीआईजी पीएसी अनिल कुमार व जिलाधिकारी अनुज झा सहित पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंच कर अपनी निगरानी में रेस्क्यू अभियान चलाया।आगरा के सिकंदरा की शास्त्रीपुरम कॉलोनी के एक-ब्लॉक निवासी अशोक कुमार अपने परिवार के 15 सदस्यों के साथ रामनगरी दर्शन के लिए आए थे। शुक्रवार को जब वे गुप्तारघाट पहुंचे तो तेज बारिश शुरू हो गई। बारिश धीमी होने के दौरान महिलाएं घाट पर हाथ-पांव धुल रही थीं। इसी बीच एक महिला का पांव फिसलने से वह नदी में गिर गईं। उन्हें बचाने के प्रयास में एक-एक कर साथ आए बच्चों सहित 12 लोग नदी में उतर गए। नदी का बहाव तेज होने के कारण सभी लहरों में समाते चले गए। हादसे में अशोक की पत्नी राजकुमारी, पुत्र ललित, पंकज व विवाहित पुत्री श्रुति, सीता और नातिन ⊃2;ष्टि की मौत हो गई, जबकि प्रियांशी, जूली व सार्थक लापता हैं। नदी में डूबी आरती, बालिका धैर्या व गौरी को बचा लिया गया है।हादसे के वक्त घाट पर मौजूद रहे वृद्ध अशोक कुमार उनके नाती नमन और दामाद सतीश भी बचाने के लिए नदी में उतरे, लेकिन किनारे पर होने की वजह से वह नदी में डूबे नहीं। सतीश का कहना है कि सभी नाव में सवार होकर अयोध्या से गुप्तारघाट पहुंचे थे। वह कुछ दिन यहां ठहरते, लेकिन इस हादसे से उनका परिवार उजाड़ दिया। डीएम अनुज झा ने बताया कि लापता हुए लोगों की तलाश के लिए रेस्क्यू जारी है। एनडीआरएफ की टीम को भी बुलाया गया है।सात वर्षीया धैर्या ने संकट के क्षण में भी अपना धैर्य तथा साहस नहीं खोया और अपनी जान बचा ली। जहां एक तरफ परिवार के लोग सरयू की तेज धारा में बहे जा रहे थे वहीं सात वर्षीय बालिका धैर्या ने तैर कर खुद की जान बचा ली।

फैजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» UP में बनेगी बसपा सरकार - सतीश चंद्र मिश्र

» अयोध्‍या में चाची ने मायके बुलाकर की थी भतीजे की हत्‍या

» अनी बुलियन कंपनी का ब्रांच हेड अयोध्‍या में गिरफ्तार,दो वर्ष से था फरार

» श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के विरुद्ध मुकदमा

» श्रीराम के वंश चिह्न वाला सिक्का दिलाने के नाम पर ठगी