यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्जी वनाधिकारी बन करते थे अवैध वसूूली, तीन गिरफ्तार


🗒 रविवार, अक्टूबर 03 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्जी  वनाधिकारी बन करते थे अवैध वसूूली, तीन गिरफ्तार

अयोध्या, । फर्जी वनाधिकारी बनकर शहर में घूम रहे तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए सभी युवक हरियाणा के रहने वाले हैं। यह सभी अपने को वन विभाग की वाइल्ड लाइफ टीम का सदस्य बता रहे थे। गत सात सितंबर को तीनों शहर में चौक स्थित आयुर्वेद दवाओं एवं जड़ी बूटी बेचने वाले प्रतिष्ठान पर चेकिंग कर रहे थे। उसी दौरान इनकी गतिविधियां संदेह के घेरे में आईं। अयोध्या के क्षेत्रीय वनाधिकारी अशोक श्रीवास्तव की ओर से प्रकरण में मुकदमा कोतवाली नगर में दर्ज कराया गया है। अशोक ने ही अभियुक्तों के बारे में इनपुट पुलिस को उपलब्ध कराया था। यह लोग फर्जी वनाधिकारी बन दुकानदारों को दबाव में लेकर अवैध वसूली करते थे।अभियुक्तों ने वन विभाग के स्थानीय अधिकारियों को भी अपने झांसे में ले रखा था। चेकिंग से पहले उन्होंने वन विभाग के स्थानीय अधिकारियों से संपर्क कर कर्मियों की टीम सहयोग मांगी थी। अशोक श्रीवास्तव को अभियुक्तों की गतिविधियों पर संदेह हुआ तो उन्होंने उच्चाधिकारियों को प्रकरण से अवगत कराया। वाइल्ड लाइफ विंग से संपर्क करने पर उन्होंने रामनगरी में अपनी किसी भी टीम की सक्रियता से इंकार कर दिया। इसके बाद वन विभाग के अधिकारियों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। अभियुक्त चेकिंग के दौरान प्रभाव दिखाने के लिए नकली बंदूक भी अपने साथ रखते थे। उनकी बातचीत एवं व्यवहार से भी किसी अधिकारी से कम नहीं था हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने पूछताछ की तो हकीकत सामने आई। अभियुक्तों ने बताया कि वह करीब एक माह से ठगी के धंधे में लिप्त थे। उनके पास से पुलिस ने एक कार भी बरामद किया है। चौकी प्रभारी चौक यशवंत द्विवेदी ने बताया कि पकड़े गए लोगों में हरियाणा के एल्डिगो सिटी कॉलोनी पानीपत निवासी दीपक कुमार चौधरी, शिमला मौलाना निवासी अनिल कुमार एवं नारा निवासी श्यामलाल उर्फ राधे श्याम शामिल हैं। रविवार को यह लोग बलरामपुर जा रहे थे, लेकिन हाईवे पर सआतगंज से इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।