यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आतंकी ओसामा बिन लादेन को आदर्श बताने वाला एसडीओ निलंबित


🗒 बुधवार, जून 01 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आतंकी ओसामा बिन लादेन को आदर्श बताने वाला एसडीओ निलंबित

फर्रुखाबाद, । विद्युत विभाग के उपखंड कार्यालय के प्रतीक्षालय में दुर्दांत आतंकवादी ओसामा बिन लादेन की तस्वीर लगाकर उसका महिमा मंडन करते हुए उसे विश्व का सर्वश्रेष्ठ अवर अभियंता बताने वाले उपखंड अधिकारी (एसडीओ) को प्रबंध निदेशक ने तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की संस्तुति की है।विद्युत विभाग के उपखंड अधिकारी नवाबगंज कार्यालय के प्रतीक्षालय की दीवार पर उपखंड अधिकारी रविंद्र कुमार गौतम ने ओसामा बिन लादेन की फोटो लगवाकर लिखा था कि विश्व के सर्वश्रेष्ठ अवर अभियंता। जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने इस घटना की रिपोर्ट शासन को भेजी तो वहां से प्रकरण को गंभीरता से लिया गया। उसके बाद दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अमित किशोर ने उपखंड अधिकारी रविंद्र कुमार गौतम को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए कहा कि उनके इस कृत्य से विभाग की छवि धूूमिल हुई है। यह कृत्य सरकारी कर्मचारी सेवक आचरण नियमावली-1958 के प्राविधानों के प्रतिकूल है। उपखंड अधिकारी रविंद्र कुमार गौतम के खिलाफ घोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की संस्तुति की गई है। निलंबन अवधि में उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता अनुमन्य होगा। वह कार्यालय विद्युत वितरण मंडल कन्नौज से संबद्ध रहेंगे। प्रबंध निदेशक ने मंगलवार शाम को ही अधीक्षण अभियंता एसके श्रीवास्तव को अपने कार्यालय में तलब कर लिया था। बुधवार को अधीक्षण अभियंता संपूर्ण पत्रावली लेकर आगरा स्थित प्रबंध निदेशक कार्यालय पहुंच गए। प्रबंध निदेशक ने पत्रावली में मिले साक्ष्यों व वरिष्ठ अधिकारियों को अभद्रभाषा में भेजे गए पत्रों का संज्ञान लेकर उपखंड अधिकारी रविंद्र प्रकाश गौतम के खिलाफ समिति गठित कर जांच कराने के आदेश दिए गए हैं। उपखंड अधिकारी ने करीब एक सप्ताह पूर्व नवाबगंज स्थित उपखंड कार्यालय के प्रतीक्षालय में आतंकवादी ओसामा बिन लादेन की फोटो लगाई थी। कार्यालय में लिपिक के अलावा आपरेटर, दो अवर अभियंता व एक दर्जन से अधिक लाइनमैन का प्रतिदिन आना-जाना होता है, लेकिन आतंकवादी की फोटो लगाने के मामले में न तो किसी कर्मचारी ने उपखंड अधिकारी का विरोध किया और न ही वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी सूचना दी। इसी लापरवाही के चलते उपखंड कार्यालय में तैनात सभी कर्मचारियों की उपखंड अधिकारी से मिलीभगत होने की आशंका जताई जा रही है। मुख्य अभियंता राकेश वर्मा ने बताया कि पूरे मामले की जांच के लिए कमेटी गठित कर दी गई है। सभी बिंदुओं पर विस्तार से रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट मिलने के बाद अन्य कर्मचारियों पर भी कार्रवाई की जाएगी। 

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» पिता ने की दो बेटियों की हत्या, फिर खुद फांसी लगाकर दी जान

» पुलिस लाइन में कार में बेहोशी हालत में मिले दारोगा

» बदमाशों ने फोटो स्टूडियो मालिक की गोली मारकर की हत्या

» फर्जी एसडीओ को पीटकर पुलिस को सौंपा

» छात्रों के दो गुटों में विवाद, पुलिस से अभद्रता कर लहराए तमंचे