यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दूसरे की जगह परीक्षा देते धरे गए तीन फर्जी परीक्षार्थी


🗒 सोमवार, जुलाई 25 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
दूसरे की जगह परीक्षा देते धरे गए तीन फर्जी परीक्षार्थी

फर्रुखाबाद, । फतेहगढ़ स्थित सैन्य छावनी में सेना की ओर से रविवार को आयोजित समूह ‘ग’ के 26 कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए लिखित परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा से पूर्व जांच के दौरान अभिलेख संबंधित आवेदन में दी गई सूचना से भिन्न मिलने पर तीन संदिग्ध युवकों को पकड़ लिया गया।पकड़े गए तीनों ‘मुन्नाभाई’ को कोतवाली पुलिस के सिपुर्द किया गया। परीक्षा समिति के पीठासीन अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल ने आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस को तहरीर दी।राजपूत रेजीमेंटल सेंटर में क्वार्टर मास्टर कार्यालय के लिए लिपिक, नाई, धोबी, माली, सफाईवाला आदि सहित कुल 26 पदों की भर्ती के लिए विगत माह आवेदन आमंत्रित किए गए थे। इसके लिए रविवार को लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया था। परीक्षा में विभिन्न प्रांतों से आए लगभग पांच हजार युवाओं ने भाग लिया।इस दौरान परीक्षा से पूर्व अभ्यर्थियों के प्रमाणपत्रों की जांच की गई। जांच में तीन अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्र व फोटो आवेदन में दी गई जानकारी और आधार कार्ड से भिन्न मिलने पर अधिकारियों ने उन्हें बैठा लिया। बाद में पूछताछ के दौरान पकड़े गए युवाओं ने दूसरे अभ्यर्थियों के नाम पर परीक्षा में शामिल होने का प्रयास करने की बात स्वीकार की। इसी के बाद पकड़े गए तीनों युवकों को सेना की ओर से पुलिस को सौंप दिया गया।तहरीर के अनुसार यह लोग योगेश कुमार पुत्र श्याम सुंदर निवासी बिहार प्रांत, राकेश सिंह पुत्र वीरेंद्र सिंह निवासी आगरा और सौरभ कुमार पुत्र रामकिशन निवासी फतेहगढ़ के नाम पर परीक्षा में शामिल होने का प्रयास कर रहे थे। परीक्षा समिति के पीठासीन अधिकारी व एडम बटालियन के लेफ्टिनेंट कर्नल वैल्यूमुर्गन एस. ने मामले में जांच कर कार्रवाई के लिए पुलिस को तहरीर दी।सैन्य अधिकारी की तहरीर पर तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। फतेहगढ़ कोतवाली प्रभारी जेपी पाल ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। तीनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। जिन अभ्यर्थियों के नाम पर यह लोग परीक्षा में शामिल होने का प्रयास कर रहे थे, उनसे भी पूछताछ की जाएगी।