यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्रुखाबाद मे केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा में तैनात दारोगा ने की आत्महत्या, रिवाल्वर से मारी गोली


🗒 मंगलवार, अक्टूबर 02 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्रुखाबाद मे केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा में तैनात दारोगा ने की आत्महत्या, रिवाल्वर से मारी गोली

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ला की सुरक्षा में तैनात दारोगा ने आज आत्महत्या कर ली। दारोगा तारबाबू तरुण ने रिवाल्वर से खुद को गोली मारी है। घटना के बाद महकमे में अफरा तफरी का माहौल है और पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। 

दारोगा तारबाबू तरुण मूलत: जनपद फिरोजाबाद की कोतवाली टूंडला के गांव नगला सोना निवासी थे। दो दिन पहले ही जनपद कानपुर नगर से यहां तबादले पर आये थे। यहां पुलिस लाइन में अपनी आमद करायी थी। पुत्र कमल कुमार भी उनके साथ आया था। दारोगा तारबाबू को सुबह पुलिस लाइन की जीप से केन्द्रीय मंत्री शिवप्रताप शुक्ल की पीएसओ ड्यूटी पर भेजा गया था। उनके साथ हेड कांस्टेबल हरिशंकर, सिपाही दीपसिंह व कौशल एवं जीप चालक रामवीर सिंह भी थे।यह लोग जिले की सीमा से सटे जनपद शाहजहांपुर थाना अल्लागंज के बरेली हाईवे स्थित हुल्लापुर चौराहा के निकट रुककर मंत्री के आने की प्रतीक्षा करने लगे। दारोगा पास में ही एक कबाड़ी की दुकान के सामने पेड़ की छांव में पड़ी कुर्सी पर बैठकर किसी से मोबाइल पर बात करने लगे। कुछ देर बाद वह उठकर पीछे गये और अपनी सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोलियां मार ली। इसके बाद साथी पुलिस कर्मचारी उन्हें लेकर लोहिया अस्पताल आये। डा. मनोज पाण्डेय ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। फायर की आवाज सुनकर कबाडी की दुकान पर बैठे लोग चीख पड़े। इस पर साथी सिपाही भागकर मौके पर पहुंचे तो दारोगा तारबाबू खून से लथपथ पड़े थे। सिपाहियों ने फोन से अधिकारियों को सूचना दी और घायल दारोगा को जीप से लोहिया अस्पताल लेकर आये। वहां डाक्टर मनोज पान्डेय ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सूचना पर उनका पुत्र भी अस्पताल आ गया।

एसपी संतोष मिश्रा, एएसपी त्रिभुवन सिंह, सीओ सिटी रामलखन सरोज आदि अधिकारी अस्पताल पहुंचे। एसपी संतोष कुमार मिश्र ने कहा कि आज तारबाबू की जिन मोबाइल नंबरों बात हुई, उन्हें ट्रेस किया गया है। प्रथम दृष्टया घटना के पीछे पारिवारिक कलह सामने आ रही है। विस्तृत जांच कराई जा रही है।केंद्रीय मंत्री शिवप्रताप शुक्ला के पीएसओ ड्यूटी पर तैनात दारोगा तारबाबू तरुण ने आज गोली मारकर आत्महत्या कर ली। फर्रुखाबाद पुलिस लाइन में तैनात दारोगा तारबाबू तरुण (50) को आज दोपहर केंद्रीय मंत्री शिवप्रताप शुक्ला के पीएसओ ड्यूटी पर भेजा गया था। आज वह बरेली हाईवे पर जिले की सीमा पर अन्य पुलिस कर्मियों के साथ मौजूद थे। तभी उन्होंने अचानक अपनी रिवाल्वर से कनपटी पर गोली मार ली।

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फर्रुखाबाद मे रिटायर्ड सैन्य कर्मी की बेटी की खुदकशी पीछे छोड़ गई कई सवाल, मंगेतर ने तोड़ दी थी शादी

» फर्रुखाबाद में हत्या में पति पहुंचा सलाखों के पीछे, जिंदा लौटी पत्नी

» फर्रुखाबाद मे बेटे-भतीजे पर मुकदमा दर्ज होने से भड़के भाजपा सांसद, थाना घेरकर बोले-मर्यादा भूल गई है पुलिस

» फर्रुखाबाद में ज्वैलर्स को जरा सी नामसमझी पड़ गई भारी, छह किलो चांदी से धो बैठा हाथ

» फर्रुखाबाद मे प्रेमी ने फांसी लगा दी जान, प्रेमिका के नाम सुसाइड नोट ने खोला चौंकाने वाला राज

 

नवीन समाचार व लेख

» पुलिस को चकमा देकर ड्रग माफिया का कोर्ट में सरेंडर

» लखनऊ में STF ने 21 अवैध पिस्टल के साथ पकड़े दो शातिर

» हरदोई जा रही रोडवेज बस में शॉर्ट सर्किट से लगी आग, यात्री और कर्मी दोनों सुरक्षित

» अखिलेश यादव ने सरकार को घेरा, कहा- अफसरशाही में लूट लो की प्रतिस्पर्धा

» सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से कहा- शारदीय नवरात्र से पहले गड्ढामुक्त हों उत्तर प्रदेश की सड़कें