यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्रुखाबाद सांसद के बिगड़े बोल-तू पिटने का काम कर रहा है, मैं बिल जमा नहीं करूंगा...


🗒 मंगलवार, अप्रैल 02 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्रुखाबाद सांसद के बिगड़े बोल-तू पिटने का काम कर रहा है, मैं बिल जमा नहीं करूंगा...

 सांसद और BJP प्रत्याशी मुकेश राजपूत ने नोड्यूज के लिए विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता को फोन पर धमकी दी। उनकी धमकी भरी बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ तो सांसद बचाव में आ गए और अधिशाषी अभियंता को भ्रष्ट अधिकारी बताते हुए डांटने की बात कही है। अधिशाषी अभियंता ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर मामले की शिकायत की है।फर्रुखाबाद लोकसभा सीट से सांसद मुकेश राजपूत को भाजपा ने दोबारा टिकट दिया है। नामांकन के लिए उन्हें नोड्यूज प्रमाण पत्र चाहिए। इसके लिए सोमवार को उनके प्रतिनिधि अनूप मिश्रा अधिशाषी अभियंता पंकज अग्रवाल के कार्यालय पहुंचे। पंकज अग्रवाल का आरोप है कि सांसद पर तकरीबन छह लाख रुपये बिजली का बिल बकाया है। इसलिए नोड्यूज जारी करने से मना कर दिया। इस पर सांसद ने फोन पर बात की। अधिशासी अभियंता का आरोप है कि बातचीत के दौरान सांसद ने कई अभद्र शब्दों का प्रयोग किया और मारपीट की धमकी दी। उन्होंने शिकायती पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी को भेजा है।

अधिशाषी अभियंता-सांसद के बीच बातचीत के अंश
सांसद - पैसा जमा ही करवाओगे।
अधिशाषी अभियंता- जमा करा दें साहब।
सांसद- नहीं क्यूं जमा करा दें, इतना पैसा कैसे जमा करा देंगे।
अधि. अभियंता- तो मत जमा कराइए, फिर क्या कह सकते हैं।
सांसद- नहीं, तुमने पूरे जिले को लूटा है।
अधि. अभियंता- मैंने जो भी किया है, अपने विभाग के लिए किया है, और कुछ भी गलत नहीं किया है, आप इस तरह से गलत बात कर रहे हैं।
सांसद- ... तू ठुकने पिटने वाला काम कर रहा है। तेरा दिमाग खराब है.....(अभद्र भाषा)। समझ में आई, उसे ठीक कर दे।
अधि. अभियंता- नहीं कर पाऊंगा।
सांसद- नहीं कर पाएगा तो मत कर, दिमाग खराब है तेरा।
इनका कहना है
सांसद मुकेश राजपूत ने अप्रैल 2012 से बिल ही जमा नहीं किया। उनके घर का करीब 4.90 लाख का बिल है। जो ओटीएस योजना में छूट के बाद 3.68 लाख बचता है। उनके शो-रूम का भी लगभग 1.32 लाख का बिल बकाया है। इसलिए नोड्यूज के लिए इन्कार किया। डीएम से शिकायत कर दी है। -पंकज अग्रवाल, अधिशाषी अभियंता 
मामले की जानकारी हुई है। अधिशाषी अभियंता का शिकायती पत्र अभी तक नहीं मिला है। पत्र मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। -मोनिका रानी, जिला निर्वाचन अधिकारी 
अधिशाषी अभियंता भ्रष्ट अधिकारी हैं। जब एक सांसद के साथ अशिष्ट भाषा का प्रयोग करतें हैं, तो आम आदमी के साथ कैसा बर्ताव करता होगा। इसलिए उसे डांटते हुए कहा था कि तुम ठुकने-पिटने वाले काम काम कर रहे हो। -मुकेश राजपूत, सांसद/भाजपा प्रत्याशी

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फर्रुखाबाद मे 25 हजार के इनामी लुटेरे को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान किया ढेर

» फेसबुक पर हुआ प्यार और प्रेमिका आ गई प्रेमी के द्वार

» फर्रुखाबाद मे चेकिंग के दौरान नहीं रोकी बाइक तो सिपाही ने मार दिया हेलमेट, छात्र को तड़पता देख मौके से भागे

» फर्रुखाबाद मे रिटायर्ड सैन्य कर्मी की बेटी की खुदकशी पीछे छोड़ गई कई सवाल, मंगेतर ने तोड़ दी थी शादी

» फर्रुखाबाद में हत्या में पति पहुंचा सलाखों के पीछे, जिंदा लौटी पत्नी

 

नवीन समाचार व लेख

» सीतापुर में किशोरी का स्नान करते अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी

» दबंगों ने युवक को बेरहमी से पीटा खोपड़ी कई घाव , हालत गंभीर

» महोबा में शराब के नशे में पिता ने पत्नी काे पीट अपने दो मासूम पुत्रों की गला दबा कर की हत्या

» जय बाजपेई के साथी राहुल के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, जल्द ही शुरू होगी कुर्की

» मथुरा की 100 निजी आइटीआइ की खत्म हो सकती है मान्यता, फर्जीवाड़े की मिली थी शिकायतें