यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्रुखाबाद में बेटे ने मां को गला घोट कर मार डाला


🗒 सोमवार, जुलाई 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्रुखाबाद में बेटे ने मां को गला घोट कर मार डाला

कायमगंज के एक गांव में एक बेटे ने उस मां को दर्दनाक मौत दे दी, जिसने नौ माह तक कोख में रखकर उसे जन्म देने के लिए दर्द सहा था। घटना से गांव वाले भी स्तब्ध रह गए और मां को मौत की नींद सुलाने वाले आरोपित पुत्र को कोसते रहे। पुलिस ने भाई की तहरीर पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की है।कायमगंज कोतवाली क्षेत्र के गांव लखनपुर में सोमवार की सुबह करीब पांच बजे 68 वर्षीय विद्यावती की गला घोंट कर हत्या कर दी गई। ग्रामीणों की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक जयप्रकाश शर्मा फोर्स के साथ पहुंचे तो खेत में वृद्धा का शव पड़ा मिला, पास में ही उसकी चप्पलें व टूटी माला मिली। खेत के पास ही उसके बड़े पुत्र धनपाल की झोपड़ी है।रंभिक छानबीन में पुलिस को पता लगा कि बंटवारे के विवाद के चलते हत्या की गई है। वृद्धा के पांच पुत्र धनपाल, बृजपाल, शिवपाल, राजेश्वर व बलराम हैं और छह बीघा खेत हैं। खेत दो हिस्सों में हैं, जिसके बंटवारे को लेकर भाइयों में अक्सर मारपीट होती थी। गांव के बाहर सड़क किनारे खेत पर धनपाल झोपड़ी बनाकर रहता है। गांव के अंदर मकान में उसके चार भाइयों के परिवार और विद्यावती रहती थीं। वह उस खेत को धनपाल को न देकर अपने पास रखना चाहती थी। इसी वजह से विद्यावती सुबह खेत पर पहुंची। विवाद होने पर झोपड़ी से बाहर आए धनपाल ने बूढ़ी मां को पकड़ कर गला घोट दिया। प्रभारी निरीक्षक जेपी शर्मा ने बताया कि मृतका के छोटे पुत्र बलराम की तहरीर पर बड़े पुत्र धनपाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फर्रुखाबाद में संपत्ति हथियाने को लेकर चाचा ने कर दी मासूम की हत्या

» फर्रुखाबाद मे 25 हजार के इनामी लुटेरे को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान किया ढेर

» फेसबुक पर हुआ प्यार और प्रेमिका आ गई प्रेमी के द्वार

» फर्रुखाबाद मे चेकिंग के दौरान नहीं रोकी बाइक तो सिपाही ने मार दिया हेलमेट, छात्र को तड़पता देख मौके से भागे

» फर्रुखाबाद मे रिटायर्ड सैन्य कर्मी की बेटी की खुदकशी पीछे छोड़ गई कई सवाल, मंगेतर ने तोड़ दी थी शादी