यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्रुखाबाद में नेत्र चिकित्सक की हत्या का मास्टर मांइड चेन्नई से गिरफ्तार


🗒 बुधवार, जून 02 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्रुखाबाद में नेत्र चिकित्सक की हत्या का मास्टर मांइड चेन्नई से गिरफ्तार

फर्रुखाबाद,। कोतवाली क्षेत्र के गांव याहियापुर में 30 अगस्त 2019 की देर शाम क्लीनिक पर नेत्र चिकित्सक डॉ. बिलाल खां की गोली मारकर हत्या के मामले में फरार मास्टर माइंड समी अली खां को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसओजी व कायमगंज कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने 50 हजार रुपये के इनामी समी को चेन्नई से दबोचा।वहां की अदालत से ट्रांजिट रिमांड पर यहां लाकर जेल भेजा गया है। घटना के बाद बिलाल के पिता खालिद अली खां ने अपने भतीजे समी पुत्र जाहिद अली खां और उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। विवेचना में सामने आया था कि समी ने भाड़े के हत्यारों को सुपारी देकर हत्या कराई थी। अधिकांश आरोपित गिरफ्तार होकर जेल जा चुके हैं। समी तभी से फरार था। उस पर गैंगस्टर की कार्रवाई के साथ 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर लाखों रुपये की संपत्ति भी कुर्क की जा चुकी है।समी ने पिछले दिनों बिलाल के किसी स्वजन को मोबाइल पर कॉल कर मुकदमा वापस लेने के लिए धमकाया था। उसी नंबर को ट्रेस करने पर पता लगा कि उसकी लोकेशन चेन्नई में है। एसओजी प्रभारी जेपी शर्मा और कायमगंज कोतवाली के एसएसआइ संतोष कुमार की टीम वहां पहुंची। आरोपित को चेन्नई के अन्नानगर के पीपी गार्डन स्ट्रीट के मकान नंबर 583 से गिरफ्तार किया गया। उसके खिलाफ कोतवाली में तीन मुकदमे दर्ज हैं।

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फर्रुखाबाद में बाग में असलहे बना रहे दो युवक गिरफ्तार

» दुल्हन ने शादी से किया इन्कार, कहा- काले लड़के के साथ नहीं रचाना ब्याह

» इंस्पेक्टर हत्याकांड में वांछित अनुपम दुबे के घर जीआरपी का छापा

» चोरी के बाद लुटेरों ने दुकानदार के लिए छोड़ा नोट

» नाखुश पिता ने बेटी की बेरहमी से कर दी हत्या

 

नवीन समाचार व लेख

» जिस प्रापर्टी पर योगी बैठे.वह जनता की - प्र‍ियंका

» सतीश चंद्र मिश्र अयोध्‍या से शुरू करेंगे प्रबुद्ध वर्ग विचार गोष्ठी

» आंदोलनकारी क‍िसानों को मवाली कहने पर भड़के सपा अध्‍यक्ष अख‍िलेश

» रोहिंग्या कैंप तोड़कर खाली कराई 150 करोड़ की जमीन

» अमीर और गरीब के लिए अलग नहीं हो सकती न्याय व्यवस्था - सुप्रीम कोर्ट