यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मतांतरण के लिए उकसाने में पर तीन को पकड़ा


🗒 रविवार, अक्टूबर 10 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मतांतरण के लिए उकसाने में पर तीन को पकड़ा

फर्रुखाबाद, । जेल में बंद बाबा रामपाल की पुस्तकें बेच रहे युवती-महिला समेत तीन लोगों को पकड़ लिया गया। पांचाल घाट की पुरानी घटिया पर रविवार को पकड़े गए लोगों पर हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने हिंदू धर्म पर आपत्तिजनक बातें लिखा साहित्य बेचने और लोगों को मतांतरण के लिए उकसाने का आरोप लगाया। पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया। महासभा पदाधिकारियों ने उनके खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है।शहर कोतवाली क्षेत्र में पांचालघाट पुरानी घटिया निवासी रामदास गुप्ता के मकान के सामने थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के गांव खारबंदी नगला वजीर निवासी संगीत शाक्य की पुत्री खुशी शाक्य, शहर कोतवाली के गांव मसेनी निवासी अजयपाल यादव की पत्नी पुष्पा यादव, जनपद इटावा थाना चौबिया के गांव आढरपुर निवासी धनीराम सक्सेना कुछ किताबें बेच रहे थे। किताबों का मूल्य 98 रुपये लिखा था, लेकिन वह 20 रुपये में बेच रहे थे। रामदास गुप्ता व अन्य लोगों का कहना है कि किताबों में हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी लिखी थी। कुछ देर में ही भीड़ इकट्ठा हो गई। लोगों ने आरोप लगाया कि तीनों आरोपित लोगों को मतांतरण के लिए उकसा रहे हैं। पांचालघाट चौकी पुलिस ने तीनों को हिरासत में लेकर कोतवाली भेज दिया। ङ्क्षहदू महासभा युवा इकाई के प्रदेश अध्यक्ष विमलेश मिश्रा, जिलाध्यक्ष क्रांति पाठक ने तीनों के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी। आरोपित धनीराम सक्सेना ने बताया कि उनकी रिश्तेदार मसेनी चौराहा स्थित एक नर्सिंगहोम में भर्ती हैं। वह उन्हें देखने आए थे, वहीं उनका परिचय पुष्पा यादव से हुआ। वह बाबा रामपाल के शिष्य हैं। उनके साहित्य का प्रचार-प्रसार करते हैं। कोतवाली प्रभारी विनोद कुमार पांडेय ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपितों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।