फतेहपुर मिलावटी शराब कांड मे आरोपितों की संपत्ति कुर्क करने की हो रही तैयारी

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फतेहपुर मिलावटी शराब कांड मे आरोपितों की संपत्ति कुर्क करने की हो रही तैयारी


🗒 मंगलवार, मार्च 16 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फतेहपुर मिलावटी शराब कांड मे आरोपितों की संपत्ति कुर्क करने की हो रही तैयारी

फतेहपुर,  गाजीपुर क्षेत्र के इंद्रों में वर्षों से मिलावटी शराब से लाखों रुपये के कारोबार का खेल चल रहा था। इलेक्ट्राॅनिक दुकानदार के तार अनुज्ञापी से लेकर पड़ोसी जिले बांदा तक जुड़े हैं। पूरे रैकेट के राजफाश में लगी पुलिस टीम ने भौली में हुई दो मौतों के प्रकरण में अनुज्ञापी व इलेक्ट्रानिक दुकानदार को देशी शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया। जांच में 05 छोटी बोतलों में क्यूआर कोड नकली मिला। हालांकि शराब को प्रयोगशाला, प्रयागराज जांच के लिए भेजा गया है। हत्थे चढ़े दुकानदार संतोष लोधी ने बताया कि उसने 45 छोटी बोतलों से भरी एक पेटी अनुज्ञापी दुर्गेश कुमार सिंह उर्फ सीमू सिंह निवासी जैतपुर, गाजीपुर से लिया था। जिसमें 12 शराब की बोतलें बच गईं थीं तो उन्हें अपने घर के पीछे छिपा दिया था।भौली गांव में 10 मार्च को कमलेश मौर्य के घर की छत में स्लेप पडऩे के बाद करीब 21 मजदूरों ने पूड़ी सब्जी की दावत कर मिलावटी शराब पिया था जिसमें 11 व 12 मार्च को उक्त दो भोला पासवान व मोतीलाल प्रजापति की मौत हो गई थी जबकि 19 को डीएम अपूर्वा दुबे व एसपी सतपाल अंतिल ने डायलिसिस के लिए मेडिकल कालेज, कानपुर भेजा था। जहां से सभी लोग ठीक होकर अपने घर आ गए थे। दिवंगत भोला पासवान की पत्नी उमा देवी ने गैर इरादतन हत्या व आबकारी अधिनियम के तहत इंद्रों गांव स्थित इलेक्ट्रानिक दुकानदार संतोष लोधी पर मुकदमा दर्ज कराया गया था।पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल ने कहा कि अपमिश्रित व मिलावटी शराब का कारोबार करने वाले पूरे गिरोह का राजफाश किया जाएगा। पकड़े गए अनुज्ञापी दुर्गेश कुमार सिंह उर्फ सीमू व संतोष लोधी द्वारा अवैध कारोबार से कमाई गई संपत्ति को कुर्क कराने की कार्रवाई की जाएगी और गैंगेस्टर की कार्रवाई भी की जा रही है। इसमें गैर जिले के कारोबारियों का भी हाथ है। पकड़े गए दोनों कारोबारियों को जेल भेजा जा रहा है।जिला आबकारी अधिकारी संतोष तिवारी ने बताया कि अनुज्ञापी दुर्गेश उर्फ सीमू सिंह की शहर के लखनऊ बाईपास में अंग्रेजी शराब की दुकान है और इसकी सास की परसेठा में देशी शराब का ठेका है। पूरे प्रकरण को आबकारी आयुक्त पी. गुरूप्रसाद से अवगत करा दिया गया है, आदेश आते ही आगे ही कार्रवाई की जाएगी।

फतेहपुर से अन्य समाचार व लेख

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म

» फतेहपुर में लूट के मोबाइल फोन समेत अंतरजनपदीय दो लुटेरे हत्थे चढ़े

» फतेहपुर में किशोरी की बेरहमी से हत्या कर नाले में फेंका शव

» फतेहपुर में 13 लाख के घपले में दो VDO निलंबित

» फतेहपुर में अंतरप्रांतीय टप्पेबाज गिरोह के सरगना समेत तीन हत्थे चढ़े

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के 14 दिन के रिमांड को तामिला कराएगी पुलिस

» मेरठ में पत्नी का गला दबाने का आरोपित दिल्ली से गिरफ्तार

» मेरठ में महिला कांस्टेबल के साथ हैवानियत, जेठ ने फाड़े कपड़े, ससुर ने किया दुष्कर्म

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म