यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

झगड़ा शांत कराने गए सिपाहियों को पीटकर फाड़ी वर्दी


🗒 सोमवार, अक्टूबर 11 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
 झगड़ा शांत कराने गए सिपाहियों को पीटकर फाड़ी वर्दी

फतेहपुर, । मलवां थाने के छनेहरा गांव में भाइयों का झगड़ा शांत कराने गए पीआरवी के दो सिपाहियों के सामने कालर (आरोपित) अपशब्द बोलकर मां को पीटने लगा। बीच बचाव करने पर युवक ने एक सिपाही के सीने में घूंसा मारकर वर्दी फाड़ दी और वर्दी से नेमप्लेट और बैज तोड़ दिया। दूसरा सिपाही छुड़ाने आया तो उससे हाथापाई कर अभद्रता की। टीम ने आरोपित को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया है।छनेहरा गांव निवासी रामसजीवन द्विवेदी के बड़े बेटे विपिन द्विवेदी ने पीआरवी टीम को सूचना दी कि उसके पिता और भाई अतुल उसे पीटकर पसली तोड़ दी है। इस पर मलवां पीआरवी के सिपाही कुलदीप सिंह निवासी राजीवनगर विनायकपुर थाना कल्यानपुर जिला कानपुर, हमराही (सिपाही) सुनील कुमार और चालक होमगार्ड रामभवन के साथ बोलेरो से छनेहरा पहुंचे। यहां पर विपिन के शरीर पर कहीं भी चोट के निशान नहीं थे तो पुलिस टीम उससे पूछा कि गलत सूचना क्यों दी, बस इतने में वह पुलिस ने झड़प करने लगा। पीडि़त सिपाही कुलदीप सिंह ने बताया कि कुछ देर में ही विपिन अपनी मां भोला देवी को पीटने लगा। मां की चीख सुनकर वह सभी बीच बचाव कर झगड़ा शांत कराने में उनसे भिड़ गया।पीआरवी सिपाही कुलदीप सिंह की तहरीर पर विपिन द्विवेदी पुत्र रामसजीवन पर मारपीट कर सरकारी कार्य में बाधा डालकर वर्दी फाडऩे व धमकी देने के तहत एफआइआर दर्ज कर ली गई है। आरोपित विपिन को निजी मुचलके पर छोडऩे की प्रक्रिया की जा रही है। अनुमान है कि आरोपित का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। - अरविंद कुमार सिंह, प्रभारी निरीक्षक मलवां।