यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

भाइयों ने नोएडा में प्रेमी को मार डाला और बहन को मरा समझ आ गए थे गांव


🗒 सोमवार, दिसंबर 20 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
भाइयों ने नोएडा में प्रेमी को मार डाला और बहन को मरा समझ आ गए थे गांव

फतेहपुर,  । नोएडा में प्रेमी को मौत के घाट उतारने और बहन को मरा समझकर दोनों भाई गांव आ गए थे और घर में किसी कुछ नहीं बताया था। सोमवार की भोर पहर जब नोएडा पुलिस ने दबिश देकर दोनों भाइयों को गिरफ्तार किया तो असलियत सामने आई। दरअसल, उनकी बहन का पड़ोसी चचेरे भाई से प्रेम प्रसंग चल रहा था और बीते शनिवार को दोनों गांव छोड़कर फरार हो गए थे। गांव में इज्जत उछल जाने से खून का घूंट पीने वाले भाई दोनों का पता लगाते रहे और पीछा करते उनतक पहुंच गए थे। नाेएडा पुलिस दो सगे भाइयों, उनके मां-पिता समेत पांच लोगों को हिरासत में लेकर गई है।असोथर थाना क्षेत्र के गांव में रहने वाले युवक का पड़ोस में रहने वाली नाबालिग चचेरी बहन से छह माह से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों परिवारों को उनके प्रेम प्रसंग की भनक नहीं थी। किशोरी गांव में माता-पिता समेत परिवार के साथ रहती थी और उसके दो भाई नोएडा में रहकर नौकरी करते थे। 18 दिसंबर 2021 की सुबह युवक नाबलिग प्रेमी को लेकर गांव से भाग गया था। इस बात की जानकारी घरवालों ने किशोरी के भाइयों को दी उनका खून खौल गया। भाइयों ने जल्द ही घर आने की बात कही थी।नोएडा में परी चौक के पास प्रेमी युवक मृत और प्रेमिका मरणासन्न हालत में मिली। पुलिस ने प्रेमिका को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया और दोनों की शिनाख्त की। शिनाख्त होने पर पुलिस को आनर किलिंग का संदेह हुआ और पीछा करते हुए असोथर थाने के गांव पहुंच गई। यहां पर नोएडा से गांव पहुंचे दोनों भाइयों को हिरासत में लिया। पुलिस के अनुसार, दोनों भाइयों ने मिलकर प्रेमी की हत्या की और बहन को मरा समझकर छोड़कर भाग आए थे। गांव में भी किसी को कुछ नहीं बताया था।घायल किशोरी के दोनों सगे भाई ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर में रहकर मजदूरी करते हैं। पुलिस के अनुसार, मां-पिता से प्रेमी के साथ बहन के भागने की जानकारी मिली तो दोनों ने पहले ही साजिश रच ली। किसी तरह उनसे संपर्क किया और नोएडा पहुंचने की जानकारी कर ली। इसपर नोएडा आउटर पर बस से उतरते ही दोनों को पकड़ लिया और फिर बहन और उसके प्रेमी पर जानलेवा हमला किया। प्रेमी की गला दबाकर हत्या कर दी और बहन को मरा हुआ समझकर दोनो भाई फतेहपुर स्थित गांव आ गए थे।किशोरी की भाभी ने पुलिस को बताया कि घर से प्रेमी के साथ ननद के भाग जाने पर ससुर थाने में रिपोर्ट लिखाने जा रहे थे लेकिन गांव के लोगों ने लोकलाज की बात कहते हुए थाने जाने से रोक दिया था। एसओ दीनदयाल सिंह ने बताया कि स्वजन ने बेटी के लापता होने की सूचना नहीं दी थी। इसकी जानकारी रविवार रात नोएडा पुलिस से हुई। नोएडा पुलिस ने गांव में दबिश देकर किशोरी के दो बड़े भाइयों, मां-पिता व छोटे भाई को हिरासत में ले लिया। किशोरी की मां विद्यालय में रसोइया है और पिता किसानी करते हैं।