यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

खुद की आइडी से बना रहा था रेलवे का ई-टिकट , गिरफ्तार


🗒 बुधवार, मार्च 16 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
खुद की आइडी से बना रहा था रेलवे का ई-टिकट , गिरफ्तार

फतेहपुर, । रेल नियमों के विपरीत काम करने वाले एक लोकवाणी केंद्र के संचालक को आरपीएफ (रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स) ने पकड़ा है। गोपनीय आधार पर जुटाई गई सूचना के आधार पर रेलवे पुलिस ने लोकवाणी केंद्र में छापा मारा। छापेमारी में पुलिस को 25 बने हुए टिकट बरामद हुए हैं। ई-टिकट के फर्जीवाड़े में पकड़े गए युवक पर रेलवे एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।बिंदकी कोतवाली के जोनिहां कस्बे निवासी असलम अली पुत्र महबूब अली ने कस्बे में आधार पंजीयन और संशोधन केंद्र खोल रखा है। रेलवे के ई-टिकट बनाने के लिए एजेंट आइडी भी बनवा रखी है। नियमत: उसे इसी एजेंट आइडी से टिकट बनाना चाहिए। गैर कानूनी तरीके से पर्सनल (खुद ) आइडी से टिकट बनाकर फर्जीवाड़ा कर रहा था। छापेमारी दल को 25 ई-टिकट मिले। इसकी कीमत 14051.75 रुपये है। आठ ई-टिकट भविष्य यात्रा के रहे, जबकि 17 टिकट बीते समय के मिले हैं। आरपीएफ के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पकड़ में आए युवक से पूछताछ की जा रही है। मामले से एक व्यक्ति और भी जुड़ा हुआ है जिसकी तलाश की जा रही है। आरोपित लोगों को खुद की आइडी से टिकट बनाकर उपलब्ध कराता था और महंगे दामों में बेचता था। आरोपित कब से इस अवैध धंधे में जुटे थे इसकी जांच की जा रही है। कब्जे से एक लैपटाप, माउस, मोबाइल, प्रिंटर और 2,500 रुपये नकद बरामद हुए हैं। पकड़े गए आरोपित के खिलाफ रेलवे एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज करके न्यायालय भेजा गया है। छापेमारी दल में दारोगा दीपक यादव, सहायक उप निरीक्षक एसबी ङ्क्षसह, सूर्यकांत तिवारी आदि रहे।