यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गोंडा जा रही एसी बस आगरा लखनऊ एक्‍सप्रेस वे पर बनी आग का गोला


🗒 मंगलवार, मई 21 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
गोंडा जा रही एसी बस आगरा लखनऊ एक्‍सप्रेस वे पर बनी आग का गोला

 मंगलवार को एक्सप्रेस वे पर बड़ा अमंगल होने से बच गया। दिल्ली से गोंडा जा रही एसी स्लीपर कोच बस में शार्ट सर्किट से आग लग गई। इंजन से धुंआ उठता देख ड्राइवर ने बस की स्पीड को नियंत्रित कर यात्रियों को सूचना दी, जिसके बाद अफरातफरी मच गई। निकलने के लिए यात्रियों ने शीशे भी तोड़ दिए। यात्रियों के सामान लेकर उतरते ही अगले ही पल बस आग का गोला बन गई। फायर बिग्रेड के आग पर काबू पाने तक पूरी बस जल चुकी थी। हादसे के चलते एक्सप्रेस वे लगभग पौन घंटे तक एक तरफ का यातायात प्रभावित रहा।ऑनलाइन सर्विस प्रोवाइडर बस सर्विस की स्लीपर कोच बस दिल्ली सुबह लगभग छह बजे गोंडा के लिए रवाना हुई थी। बस में पुरुषों के अलावा महिलाएं और बच्चे भी थे। बताया गया है कि दिल्ली से चलने के बाद बस में एक-दो जगह खराबी आई, जिसे ड्राइवर ने बस रोककर ठीक किया और फिर चल दिया। दोपहर लगभग साढ़े तीन बजे फीरोजाबाद जिले की सीमा में बस पूरी रफ्तार से दौड़ रही थी। नगला खंगर थाना क्षेत्र के भदान के पास इंजन से अचानक धुंआ उठता देख चालक राजकुमार गोस्वामी ने नियंत्रण नहीं खोया। पहले बस की स्पीड को नियंत्रित किया और फिर यात्रियों को जल्दी उतरने को कहा। इस बीच तक बस में धुंआ भर चुका था। चीखपुकार के बीच यात्रियों ने निकलने के लिए खिड़कियों के दो शीशे भी तोड़ दिए। पीछे वाले गेट से यात्रियों को सामान सहित निकाल दिया गया। इसके बाद बस ने आग पकड़ ली और धूं-धूं करके जलने लगी। आग की सूचना पर एसओ नगला खंगर केशव दत्त शर्मा फोर्स के साथ पहुंचे और फायर ब्रिगेड को सूचना दी। कुछ ही देर में सीओ सिरसागंज बलदेव ङ्क्षसह खनेडा, यूपीडा के कर्मचारी व फोर्स पहुंच गया। बस में आग से अनहोनी की आशंका को लेकर तीन एम्बुलेंस भी पहुंच गई। बस की आग बुझाने तक एक्सप्रेस वे को एक तरफ से करीब आधे घंटे के लिए बंद कर दिया गया। यात्रियों को दूसरे वाहनों से रवाना कर दिया गया।

बस से उतरने के बाद भड़की आग को देख यात्रियों के होश उड़ गए। कई महिलाएं तो बदहवास हालत में थीं। कोई ड्राइवर को शुक्रिया कर रहा था तो कोई भगवान को। यात्री प्रकाश पाल निवासी गडरीपुरवा, गोंडा ने बताया कि थोड़ी देर और हो जाती तो सब ङ्क्षजदा जल जाते। बस में सवार अन्य अजय पुत्र किशोरी लाल निवासी मोरयाना गोंडा, रामसोरत पुत्र नंदलाल निवासी गडरीपुरवा गोंडा, राधा देवी पत्नी मुरलीधर वर्मा निवासी गिदरकलां गोंडा, संगीता, रामू, रामसूरत, सचिन व काजल, मोनू तिवारी पुत्र रामस्वामी, मनीष पांडे पुत्र जमुना प्रसाद, जमुना प्रसाद पुत्र दशरथ पांडे, सीता देवी आदि हाथ जोड़कर भगवान का धन्यवाद कर रहे थे।एक्सप्रेस वे पर चलती बस में आग की यह दूसरी घटना है। इससे पहले 25 मार्च को एक्सप्रेस वे पर मैनपुरी जिले की सीमा में रात लगभग एक बजे आग लगी थी। उस घटना में मां-बेटी समेत चार की जलकर मौत हो गई थी।

फिरोजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फिरोजाबाद में जमीन के विवाद में पुलिस टीम पर हमला व फायरिंग, छह पुलिसकर्मी घायल

» फीरोजाबाद में युवक को ज्वलनशील प्रदार्थ डालकर जलाया, हालत गंभीर

» शिकोहाबाद में दर्दनाक वारदात, पत्‍नी का कत्‍ल कर भागा सिपाही, गला घोंटने के बाद चार गोलियां मारी

» अब फीरोजाबाद में भी संक्रमितों की संख्‍या बढ़ी, 3 नये मामले, मैनपुरी में भी 3 में पुष्टि

» फीरोजाबाद के भी चार जमातियों में कोरोना पॉजीटिव रिपोर्ट