फीरोजाबाद में थाने की बिजली उड़ाने वाले संविदा पर तैनात लाइनमैन का उल्‍टा पड़ा दांंव, धोना पड़ा नौकरी से हाथ

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फीरोजाबाद में थाने की बिजली उड़ाने वाले संविदा पर तैनात लाइनमैन का उल्‍टा पड़ा दांंव, धोना पड़ा नौकरी से हाथ


🗒 शनिवार, अगस्त 03 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फीरोजाबाद में थाने की बिजली उड़ाने वाले संविदा पर तैनात लाइनमैन का उल्‍टा पड़ा दांंव, धोना पड़ा नौकरी से हाथ

बिना हेलमेट चालान काटे जाने के बाद लाइनमैन द्वारा फीरोजाबाद लाइनपार थाने की बिजली काटने के मामला राष्‍ट्रीय स्‍तर पर सुर्खियों में छा गया। हालांकि संविदा लाइनमैन का दांव उल्‍टा पड़ गया। उसे दोषी करार देते हुए कंपनी ने उसकी सेवाएं समाप्‍त कर दी हैं। कर्मचारी की तरफ से लिखित माफीनामा मिलने के बाद बिजली विभाग ने कंपनी को कार्रवाई के लिए लिखा था। इस मामले में एसडीओ की ओर से अब तक स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है।मंगलवार को लाइनपार थाना क्षेत्र में चौकी इंचार्ज जयना रमेश कुमार ने बिना हेलमेट बाइक चलाने पर लेबर कॉलोनी सब स्टेशन के संविदा लाइनमैन श्रीनिवास का पांच सौ रुपये का चालान काट दिया था। इससे आक्रोशित लाइनमैन ने लाइनपार थाने का बिजली बिल निकलवाया और करीब छह लाख का बकाया होने पर शाम पांच बजे थाने का कनेक्शन काट दिया था। सीओ की आपत्ति के बाद रात नौ बजे कनेक्शन जोड़ दिया गया था। बुधवार को यह मामला उप्र पावर कारपोरेशन के चेयरमैन आलोक कुमार तक पहुंच गया। उन्होंने मामले में रिपोर्ट तलब की थी। इसके बाद अधिशासी अभियंता ने उपखंड अधिकारी (एसडीओ) और लाइनमैन से जबाव तलब किया था। उधर, एसएसपी ने भी अपने स्तर पर जांच शुरू करवा दी।अधिशासी अभियंता एके पांडेय ने बताया कि लाइनमैन श्रीनिवास आउट सोर्सिंग कंपनी मै.बालाजी इलेक्ट्रीकल एंड कांट्रेक्टर का कर्मचारी है। लाइनमैन ने लिखित में माफीनामा दिया है। इस आधार पर अधिशासी अभियंता ने कंपनी को पत्र लिखा है कि लाइनमैन द्वारा अधिकारियों के संज्ञान में लाए बिना थाना लाइनपार की बिजली काटी थी। विभाग के समक्ष पैदा हुई विषम परिस्थिति के लिए लाइनमैन पूरी तरह से दोषी है। इसलिए उसके खिलाफ कार्रवाई करते हुए अवगत कराएं। अन्यथा की स्थिति में कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अधिशासी अभियंता ने बताया कि लाइनमैन की गलती की रिपोर्ट चेयरमैन को दे दी गई है। फिलहाल एसडीओ रनवीर सिंह ने अभी अपना स्पष्टीकरण नहीं दिया है।एसएसपी के आदेश पर जांच कर रहे सीओ सदर बलदेव सिंह का कहना है कि उन्होंने एसडीओ से कनेक्शन काटे जाने के नियमों के संबंध में पत्र लिखा गया था, लेकिन उनकी ओर से जवाब नहीं आया है। दो दिन में जवाब न आने पर रिमाइंडर भेजा जाएगा।दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (डीवीवीएनएल) के निदेशक (कार्मिक) राकेश कुमार कुशवाहा ने बताया कि पूरी कंपनी के 9,627 संविदा कर्मचारियों को मई के पारिश्रमिक भुगतान के लिए 17 करोड़ रुपये जारी कर दिए गए हैं। जून माह का भुगतान भी शीघ्र होगा।संविदा पर कर्मचारी उपलब्‍ध कराने वाली कंपनी बालाजी इलेक्ट्रिकल एंड कांट्रेक्‍टर के प्रोपेराइटर हरवीर सिंह ने बताया कि थाने की लाइट काटने के मामले संविदा कर्मचारी द्वारा लिखित में माफीनामा दे दिया है। मामले में गलती पाए जाने पर उसको काम से हटा दिया है। विद्युत विभाग के अधिकारियों का जो आदेश होगा, उसके अनुसार आगे कार्रवाई करेंगे।

फिरोजाबाद से अन्य समाचार व लेख

» फिरोजाबाद में जमीन के विवाद में पुलिस टीम पर हमला व फायरिंग, छह पुलिसकर्मी घायल

» फीरोजाबाद में युवक को ज्वलनशील प्रदार्थ डालकर जलाया, हालत गंभीर

» शिकोहाबाद में दर्दनाक वारदात, पत्‍नी का कत्‍ल कर भागा सिपाही, गला घोंटने के बाद चार गोलियां मारी

» अब फीरोजाबाद में भी संक्रमितों की संख्‍या बढ़ी, 3 नये मामले, मैनपुरी में भी 3 में पुष्टि

» फीरोजाबाद के भी चार जमातियों में कोरोना पॉजीटिव रिपोर्ट