यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

भीम आर्मी के वाराणसी मंडल अध्यक्ष ने थाने में सारी सीमाएं लांघते हुए दारोगा का बिल्ला भी नोच लिया, फाड़ी वर्दी


🗒 शुक्रवार, अगस्त 02 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

भीम आर्मी के वाराणसी मंडल अध्यक्ष ने दुस्साहसिक कृत्य करते हुए थाने में ही एसआइ को थप्पड़ जड़ दिया। इतना ही नहीं उनके साथ दुव्र्यवहार करते हुए वर्दी फाड़ दी और बिल्ला भी नोच लिया। इससे पूरे थाने में अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में खलबली मच गई। देखते ही देखते मौके पर कई थानों की फोर्स को बुला ली गई। भुड़कुड़ा सीओ महिपाल पाठक भी आनन-फानन पहुंच गए। हालांकि मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों ने आरोपित विनय को तुरंत गिरफ्तार कर हवालात में डाल दिया।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की रात भुड़कुड़ा कोतवाली के घटारों गांव निवासी तीन युवक धामूपुर गांव के पास संदिग्ध अवस्था में घूम रहे थे। गश्त पर निकले दुल्लहपुर थाने के एसआइ सुरेन्द्र कुमार ने रोककर तीनों से पूछताछ की। उचित जबाब नहीं मिलने पर तीनों को थाने ले आए और 151 में चालान कर दिया। इसकी जानकारी जब शादियाबाद थाना क्षेत्र के खतीरपुर निवासी भीम आर्मी वाराणसी मंडल अध्यक्ष तथा जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि विनय सागर को हुई तो वह अपने समर्थकों के साथ थाने पहुंच गया। पकड़े गये तीनों युवकों को छोडऩे का दबाव बनाने लगा। चालान की जानकारी होने पर विनय ने अपना आपा खो दिया और गाली देते हुए नायब दारोगा सुनील कुमार से उलझ गया।बात ही बात में गाली-गलौज के साथ दारोगा की वर्दी फाड़ डाली। इसके बाद तो पुलिसकर्मियों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। आसपास खड़े पुलिसकर्मियों ने आरोपी विनय कुमार को पीटकर हवालात में डाल दिया। विनय कुमार के ऊपर पुलिस ने एक दर्जन धारा लगाकर मुकदमा दर्ज किया है। थानाध्यक्ष राजेश त्रिपाठी ने बताया कि विनय कुमार ने दुस्साहसिक काम किया है। इसके पहले भी वह कई बार पुलिस के साथ दुव्र्यवहार कर चुका है। आज तो उसने हद की सीमा ही पार कर दी। ऐसे लोगों की जगह जेल में है। इस तरह के कृत्य को पुलिस बर्दाश्त नहीं करेगी। विनय सागर ने बताया कि पुलिस द्वारा पकड़े गए तीन लड़कों में से एक की शुक्रवार को आइटीआइ की परीक्षा थी। मैंने थाने मेें अनुरोध किया कि उस लड़के की परीक्षा दिला दी जाए, फिर आगे की कार्रवाई हो लेकिन पुलिस नहीं मानी।भीम आर्मी की गुंडई बढ़ती जा रही है। अब भीम आर्मी के लोग पुलिस से भी मारपीट करने में हिचकिचाहट महसूस नहीं कर रहे हैं। ऐसे लोगों को जगह जेल में ही है। विनय के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

भीम आर्मी के वाराणसी मंडल अध्यक्ष ने थाने में सारी सीमाएं लांघते हुए दारोगा का बिल्ला भी नोच लिया, फाड़ी वर्दी

- महिपाल पाठक, सीओ भुड़कुड़ा।

गाजीपुर से अन्य समाचार व लेख

» पूर्व एडीजी व एसपी पर धोखाधड़ी का मुकदमा, हाईकोर्ट के आदेश पर सदर कोतवाली में दर्ज हुआ मामला

» गाजीपुर जिले में नये साल पर सामूहिक दुष्‍कर्म कर युवती को छत से आंगन में फेंका, पांच दुष्‍कर्मियों में तीन नाबालिग

» शादी से इनकार व दूसरे से बातचीत करना घातक बना सगे जीजा ने मौत के घाट उतार

» गाजीपुर में शोहदों ने बीच राह में छात्राओं के कपड़े फाड़े

» गाजीपुर में सिहारी ताल के पास पुलिस पर फायर झोंककर भाग रहे 50-50 हजार के दो इनामी चढ़े हत्थे

 

नवीन समाचार व लेख

» हाईकोर्ट के अधिवक्‍ता की बेटी की गोली मारकर हत्‍या

» रामलला दर्शन मार्ग से संदिग्ध को दबोचा, श्रीराम जन्मभूमि परिसर में नमाज पढऩे की था फिराक में

» कन्‍नौज में अखिलेश यादव ने बताया जान को खतरा, सपा सम्मेलन में घुसेे युवक ने लगाए जय श्रीराम के नारे

» अतर्रा -कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने किसानों का घोषणा पत्र भर समस्याओं के निस्तारण का दिया भरोसा

» अतर्रा -आपदा प्रबंधन शीर्षक पर बीएड के छात्रों ने नाटक प्रस्तुत कर विद्यालय के छात्रों को किया जागरूक