यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दो पक्षों में जमकर चले ईंट-पत्थर, जान बचाकर भागे अधिकारी


🗒 शनिवार, अगस्त 06 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
दो पक्षों में जमकर चले ईंट-पत्थर, जान बचाकर भागे अधिकारी

गोरखपुर, । गोरखपुर जिले के खजनी थाना क्षेत्र के ग्रामसभा रतसही में जिला स्तरीय अधिकारियों की एक टीम भ्रष्टाचार के आरोप की जांच करने गई थी। इस दौरान पूर्व प्रधान व शिकायतकर्ता के पक्ष आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों से जमकर ईंट-पत्थर चले। इसके चलते मौके से अधिकारी अपनी जान बचाकर भाग निकले। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पुलिस भी गई। वह ग्राम विकास अधिकारी की तहरीर पर दोनों पक्षों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की तैयारी कर रही है।रतसही के टोला लमती निवासी रवि तिवारी ने जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत की थी कि पूर्व प्रधान राजेश मिश्रा के कार्यकाल में विकास कार्यों को लेकर बड़े पैमाने पर घपला हुआ है। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जिलाधकारी कृष्णा करुणेश ने जिला कृषि अधिकारी देवेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में एक टीम गठित कर दी। टीम शुक्रवार दोपहर गांव में जांच करने के लिए पहुंची थी। टीम जांच कर रही रही थी कि इस दौरान रवि तिवारी व पूर्व प्रधान राजेश मिश्रा के बीच कहासुनी शुरू हो गई। बात बढ़ने पर दोनों के समर्थक आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों से ईंट-पत्थर चलने लगे। स्थिति गंभीरत होने पर जांच में गए अधिकारी अपनी जान बचाकर मौके से भाग निकले। मारपीट में दोनों पक्षों से करीब आधा दर्जन लोग चोटिल हो गए हैं। पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए मेडिकल कालेज भेजकर मामले की जांच में जुटी है।प्रभारी निरीक्षक खजनी इकरार अहमद ने बताया कि दोनों पक्षों ने एक दूसरे के विरुद्ध तहरीर दी है। एक पक्ष ने तीन व्यक्तियों पर आरोप लगाया है। दूसरे पक्ष ने सात व्यक्तियों पर आरोप लगाया है। दोनों पक्षों ने विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया जाएगा। जांच टीम की तरफ से पुलिस को कोई सूचना नहीं दिया गया था। सूचना मिलती तो मौके पर पुलिस टीम भी जाती।

गोरखपुर से अन्य समाचार व लेख

» हिस्ट्रीशीटर ने साथियों संग DIG बंगला के पास फायरिंग कर फैलाई सनसनी, दो गिरफ्तार

» फरियादियों के सामने मारपीट करने वाले थानेदार व दरोगा निलंबित

» फरियादियों के सामने भिड़ गए थानेदार व दरोगा, खूब हुई गाली-गलौच

» हिस्ट्रीशीटर की द‍िनदहाड़े सिर कूंचकर हत्‍या

» कर्ज में डूबे शिक्षक ने गढ़ी अपने अपहरण की झूठी कहानी