यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पिटाई से हुई बंदी की मौत, दो नामजद व कई अज्ञात पर दर्ज हुआ हत्या का मुकदमा


🗒 मंगलवार, अगस्त 09 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पिटाई से हुई बंदी की मौत, दो नामजद व कई अज्ञात पर दर्ज हुआ हत्या का मुकदमा

गोरखपुर, । गोरखपुर जिला कारागार गेट पर दम तोड़ने वाले बंदी प्रमोद की मौत के मामले में छोटे भाई ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। वायरल हो रहे पिटाई के वीडियो के आधार पर चिउटहा गांव के रहने वाले दो नामजद व कई अज्ञात लोगों को आरोपित बनाया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बंदी की मौत चोट लगने से होने की पुष्टि हुई है।महराजगंज जिले के पनियरा थानाक्षेत्र स्थित अनंतपुर गांव निवासी संतोष सिंह ने पिपराइच थाना पुलिस को दी तहरीर में लिखा है कि उनका भाई प्रमोद मजदूरी करता था। पिपराइच के महरी गांव में उनका ननिहाल है। एक सप्ताह पहले प्रमोद ननिहाल आया था। छह अगस्त की रात में चिउटहा गांव के लोगों ने चोरी का झूठा आरोप लगाते हुए प्रमोद सिंह को बहुत मारा-पीटा, जिसका इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में पिटाई कर रहे दो व्यक्ति की पहचान हुई जिसमे एक का नाम विक्रम सिंह, दूसरे का नाम लल्लू सिंह उर्फ अजय है। वीडियो में कई अन्य लोग भी दिख रहे हैं। तहरीर के आधार पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर पिपराइच थाना पुलिस आरोप की जांच कर रही है।प्रमोद सिंह उर्फ सोनू पांच भाइयों में तीसरे नम्बर का था। सभी भाई मजदूरी करते हैं। प्रमोद की शादी हो गई थी लेकिन तीन साल पहले पत्नी छोड़कर चली गई थी। एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर ने बताया कि राष्ट्रीय मानवाधिकार को घटना की जानकारी दे दी गई है। साक्ष्य के आधार पर कार्रवाई होगी।पिपराइच थाना के दारोगा अशोक सिंह ने प्रमोद सिंह को जेल भेजा था। अपनी फर्द में उन्होंने लिखा है कि शनिवार की रात गश्त के दौरान चिउटहा नहर के पास प्रमोद को चोरी के फावड़ा व स्पीकर के साथ पकड़ा। चोरी का मुकदमा दर्ज कर रविवार की शाम कोर्ट में पेश किया गय। जेल गेट पर तलाशी के दौरान ही प्रमोद की तबीयत बिगड़ने पर जिला अस्पताल भेजा गया जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।