यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

UP में निजी अस्‍पतालों की इमरजेंसी सेवा बहाल करने का निर्देश


🗒 गुरुवार, मई 14 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन व उत्तर प्रदेश नर्सिंग होम एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि जितने भी इमरजेंसी सेवा के लिए आवेदन आए हैं, 19 मई तक उन्हेंं अनुमति प्रदान कर दी जाए। साथ ही उनसे एक शपथ पत्र ले लिया जाए कि उनके पास सभी व्यवस्था है और वे सभी मानकों का पालन करेंगे।इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के सचिव डॉ. राजेश गुप्ता ने बताया कि एकल क्लीनिकों को खोलने के बारे में उन्होंने शीघ्र विचार करने का आश्वासन दिया। नर्सिंग होम एसोसिएशन के सामने सबसे बड़ा संकट पंजीकरण के नवीनकरण का था, क्योंकि नवीनीकरण अप्रैल में ही होता है। इस समय लॉकडाउन के चलते हो नहीं पा रहा है। मुख्यमंत्री ने इसकी अवधि छह माह बढ़ा दी है। वीडियो कांफ्रेंसिंग में सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. एससी कौशिक, नॄसग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. एके चतुर्वेदी व सचिव डॉ. धर्मेंद्र राय, डॉ. अमित मिश्रा, डॉ. शिवशंकर शाही सहित स्वास्थ्य विभाग के अनेक अपर मुख्य चिकित्साधिकारी शामिल थे।लॉकडाउन के दौरान इमरजेंसी सेवा शुरू करने के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) सभी आवेदनों पर अनुमति देने की मांग कर रहा था। लगभग ढाई सौ अस्पतालों ने आवेदन किया था। स्वास्थ्य विभाग ने केवल 110 चिकित्सालयों को अनुमति प्रदान की थी, जिन्हेंं अनुमति प्रदान की गई थी उन अस्पतालों की जांच के बाद कुछ कमियां मिलने पर उनकी अनुमति निरस्त की जा रही थी। आइएमए इसका भी विरोध कर रहा था। अब मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद सभी अस्पतालों के खुलने का रास्ता साफ हो गया है।इंफेक्शन प्रिवेंशन एंड कंट्रोल के दिशा-निर्देशों का पालन करते कोई चिकित्सालय कोरोना संक्रमित हो भी जाता है तो उसमें सीलिंग जैसी कोई कार्रवाई नहीं होगी, सुधारात्मक कार्रवाई प्रोटोकॉल के तहत होगी।समय पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सूचना प्रदान करने तथा प्रोटोकॉल का पालन करने वाले चिकित्सक के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी।एकल क्लीनिक, ओपीडी, पैथोलॉजी और डायग्नोस्टिक सेंटर के बारे में विस्तृत दिशा-निर्देश शीघ्र ही जारी किए जाएंगे।मुख्यमंत्री ने प्रशासन को चिकित्सकों के प्रति संवेदनशीलता रखते हुए उनकी दिक्कतों के समाधान का निर्देश दिया।सेवा भारती ने सिविल डिफेंस गोरखनाथ डिविजन, जीएन 6 के कोरोना योद्धाओं को बुधवार को सम्मानित किया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, सेवा भारती के गोरक्ष प्रान्त के मंत्री डॉ. राजेश चंद्र गुप्ता, श्रीकृष्ण गोशाला के संचालक मनमोहन जाजोदिया के नेतृत्व में पादरी बाजार स्थित एक मैरिज हाल में आयोजित कार्यक्रम में कोरोना योद्धाओं पर पुष्प वर्षा की गई। उन्हें सुरक्षा किट व अंगवस्त्र प्रदान किया गया।दूसरे राज्यों से पैदल, बस से आ रहे यात्रियों की सहायता के लिए भारतीय जनता पार्टी महानगर की ओर से दो स्थानों पर कैंप लगाया है। इसके जरिये यात्रियों को भोजन का पैकेट, पानी, मास्क तथा बिस्किट आदि वितरित किया जा रहा है। महानगर उपाध्यक्ष बृजेश मणि मिश्र ने बताया कि इसके लिए महानगर के महामंत्री अच्‍युतानंद शाही को कार्यक्रम संयोजक होंगे। जबकि नौसढ़ सहायता कैंप का संयोजक राजकुमार सिंह,  फोरलेन सिक्टौर देवरिया रोड कैंप का संयोजक हौसला सिंह व मंडल अध्यक्ष छोटेलाल पासवान को बनाया गया है। आज दोनों कैंपों का निरीक्षण क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ. धर्मेंद्र सिंह व महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने किया। उनके साथ महानगर महामंत्री देवेश श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष बृजेश मणि मिश्र आदि उपस्थित रहे। 

UP में निजी अस्‍पतालों की इमरजेंसी सेवा बहाल करने का निर्देश

गोरखपुर से अन्य समाचार व लेख

» BJP के प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र दत्त शुक्ल का गोरखपुर में निधन, CM योगी ने जताया शोक

» बीजेपी विधायक सुरेश तिवारी ने अजीबो-गरीब बयान कहा- मुस्लिम दुकानदारों से न खरीदें सब्जी

» एटा हत्याकांड की सीबीआई जांच हो-पंडित कल्याण

» लंबे समय बाद ग्राम मदरहा पंचायत गोरखपुर में लौटे अमन आलम कहा- ग्राम मदरहा पंचायत गोरखपुर का विकास नहीं हुआ

» एटा हत्याकांड का खुलासा नही तो उग्र आंदोलन हेतु बाध्य होगा संगठन-पंडित कल्याण पांडेय

 

नवीन समाचार व लेख

» इटावा मे प्रेमी युगल, ट्रेन के सामने कूदकर दी जान

» यमुना एक्सप्रेस वे पर प्रवासी मजदूरों ने इस मांग को लेकर लगाया जाम

» आगरा मेंं दिनभर में चार केस, 789 पर आंकड़ा

» मेरठ में संकट गहराया, कोराना से जिले में दो की मौत, दस नए मिले संक्रमित

» प्रतापगढ़ में दो और मरीज कोराना वायरस से संक्रमित , मरीजों की संख्‍या पहुंची 17