यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गोरखपुर में वसूली करते पकड़े गए भाजपा नेता; पुलिस ने छोड़ा, पार्टी ने पद से हटाया


🗒 शुक्रवार, जून 05 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
गोरखपुर में वसूली करते पकड़े गए भाजपा नेता; पुलिस ने छोड़ा, पार्टी ने पद से हटाया

बड़हलगंज के ददरा गांव में सरकारी आवास दिलाने और गरीबी रेखा के नीचे का राशन कार्ड बनवाने के नाम पर वसूली करते पकड़े गए भाजपा गोला मंडल के उपाध्यक्ष को पुलिस ने बिना कार्रवाई किए ही छोड़ दिया है। भाजपा नेता को ग्रामीणों ने पकड़कर दारोगा के हवाले किया था। भाजपा नेता के पकड़े जाने और बिना कार्रवाई के ही छूट जाने की घटना एक तरफ इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है तो दूसरी तरफ इस प्रकरण से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहा है। इसके बावजूद थानेदार रामाज्ञा सिंह ने मामले से अनभिज्ञता जताई है।बाइक सवार युवकददरा गांव में पहुंचा था। खुद को बड़हलगंज ब्लॉक का कर्मचारी बताकर प्रधानमंत्री आवास योजना में चयनित लाभार्थियों से संपर्क किया। आवास के लिए आवंटित रकम उनको जल्द दिलाने का झांसा देकर वसूली करने लगा। कुछ लोगों से राशन कार्ड बनवाने के नाम पर भी उसने रुपये वसूल लिए। कुछ लाभार्थियों द्वारा शाम तक रुपयों का इंतजाम करने की बात कहने पर शाम को दोबारा गांव में आने की बात कहकर वह चला गया इस बीच वसूली की जानकारी ग्राम प्रधान राजेंद्र सिंह को हुई तो उन्होंने ग्राम सचिव और खंड विकास अधिकारी, बड़हलगंज से बात की। उन्होंने किसी भी कर्मचारी को गांव में न भेजने की बात कही। युवक का भेद खुलने के बाद गांव के लोग उसके आने की प्रतीक्षा करने लगे। वह दोबारा गांव में पहुंचा तो ग्रामीणों ने उसे दबोच लिया। बाद में उन्होंने उसे दारोगा जनार्दन चौधरी के हवाले कर दिया। युवक की बाइक पर मंडल उपाध्यक्ष का बोर्ड लगा था। बाद में पूछताछ करने पर भाजपा नेता ने अपना नाम राधेकृष्ण दुबे और खुद को भाजपा के गोला मंडल का उपाध्यक्ष बताया।भाजपा नेता ने ददरा गांव की तपस्या पत्नी परशुराम प्रजापति, रजनी पत्नी शैलेंद्र श्रीवास्तव, मीरा पत्नी घनश्याम गौड़, लखराजी पत्नी झिंगुरी पासवान, दिनेश यादव पुत्र सत्यदेव तथा रामदरश यादव पुत्र अलगू से सौ-सौ रुपये वसूले थे। लालचंद पासवान पुत्र तीरथ तथा धर्मेंद्र पासवान पुत्र बाबूलाल से रात में रुपये लेने आया था।इस तरह की किसी घटना की मुझे जानकारी नहीं है। यदि कोई मामला सामने आता है या कोई शिकायत मिलती है तो जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। - श्यामदेव बिंद, सीओ गोला-मंडल उपाध्यक्ष राधेकृष्ण दुबे पर वसूली करने का आरोप लगा है। उन्हें पद से हटा दिया गया है। मामले की जांच कराई जा रही है। दोषी पाए जाने पर पार्टी से निकालने की कार्रवाई की जाएगी। - देवेश निषाद, मंडल अध्यक्ष, गोला

गोरखपुर से अन्य समाचार व लेख

» बलिया में पकड़े गए गोरखपुर में लूट करने वाले

» गोरखपुर खोराबार थाने में ही आपस में भिड़े पुलिसकर्मी, जमकर चले लात-घूसे, छह निलंबित

» जिला पंचायत, प्रधान के चुनाव में प्रत्याशी उतारेगी कांग्रेस- प्रियंका गांधी करेंगी प्रचार

» सीएम योगी आदित्यनाथ ने 3.42 लाख लोगों को दी बड़ी सौगात, बोले- नारों को हकीकत में बदला

» सीएम योगी आदित्‍यना‍थ तीन दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे, कल कुशीनगर जाएंगे

 

नवीन समाचार व लेख

» अलीगढ़ के लोधा में प्लाट में मिला युवक का शव

» एडवोकेट ओमकार सिंह सुसाइड मामले में एक आरोपित ने भी लगाई फांसी

» लखनऊ में आर संस के निदेशक की संपत्ति होगी कुर्क, लुभावनी स्कीम का झांसा देकर सैकड़ों लोगों से की ठगी

» दिलीप मिश्र की बेल निरस्त कराने हाई कोर्ट पहुंची यूपी सरकार

» फर्जी सिम मामले में आरोपितों के खिलाफ दाखिल हुई चार्जशीट, बुलडोजर मामले में टली सुनवाई