यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

छात्र की धारदार हथियार से कर दी हत्या


🗒 गुरुवार, नवंबर 25 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
छात्र की धारदार हथियार से कर दी हत्या

गोरखपुर, । पुलिस को चोरी की सूचना देने से नाराज रामगढ़ताल थाना क्षेत्र के रामपुर निवासी बदमाशों ने 11वीं के एक छात्र की धारदार हथियार से हत्या कर दी। हत्या की सूचना पाकर एसएसपी सहित अन्य पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे गए। छात्र के बड़े भाई व रामपुर निवासी राहुल शुक्ला की तहरीर पर चार नामजद व अन्य अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।गगहा क्षेत्र के नर्रे खुर्द गांव निवासी महेन्द्र शुक्ला रामगढ़ताल के रामपुर में मकान बनवा कर परिवार के साथ रहते हैं। वह पूजा-पाठ करके परिवार का भरण-पोषण करते हैं। उनके तीन बेटे राहुल शुक्ला, अंजनेय शुक्ला और सबसे छोटा अंकुर शुक्ला था। अंकुर दोपहर में घर के लिए सब्जी लेने निकला था। घर पर महेन्द्र व उनकी पत्नी माया थीं। दो बजे के करीब राहुल के मोबाइल गांव के ही एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि उसका छोटा भाई 17 वर्षीय अंकुर शुक्ला धर्मेन्द्र साहनी के घर के पास गंभीर हालत में पड़ा है।राहुल उस समय शहर में निकला था। उसने जानकारी पिता को दी। महेन्द्र मौके पर पहुंचे तो अंकुर जमीन पर पड़ा हुआ था। उसके सिर, हाथ और छाती पर धारदार हथियार और ईंट से प्रहार किया गया था। पुलिस को सूचना देकर उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की जानकारी होने पर मां माया शुक्ला और पिता व भाइयों का रो-रो कर बुरा हाल था। घटना की सूचना पर रामगढ़ताल थाने के एसएसआइ एसके शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।बड़े भाई राहुल ने पुलिस को हत्या की तहरीर देकर अवधेश, सोनू, मनीष कट्टा, जयहिन्द व उसके साथियों पर हत्या का आरोप लगाया है। बाद में जिला अस्पताल पहुंचे एसएसपी डा.विपिन ताडा ने परिजनों से घटना की जानकारी ली। उन्हें ढांढस बंधाते हुए आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया।सीाअ कैंट श्‍यामदेव बिंद ने बताया कि टीमें गठित करके आरोपितों की तलाश की जा रही है। आरोपितों घर व अन्य संभावित स्थलों पर उनकी तलाश की जा रही है। उम्‍मीद है कि उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।