यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गोरखपुर में द‍िन दहाड़े अंधााधुंध फायर‍िंग, दो की मौत- तीन घायल


🗒 रविवार, नवंबर 28 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
गोरखपुर में द‍िन दहाड़े अंधााधुंध फायर‍िंग, दो की मौत- तीन घायल

गोरखपुर, । गोरखपुर के झंगहा के जद्दूपुर में बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग करके एक ही परिवार के दो व्यक्तियों की हत्या कर दी। गोली लगने से दो युवतियों समेत तीन व्यक्ति घायल हो गए। इसमें से दो की हालत गंभीर है। उनका मेडिकल कालेज में इलाज चल रहा है। घटना के बाद आरोपित परिवार समेत गांव छोड़कर भाग गए। घटनास्थल पर आधा दर्जन थाने की पुलिस तैनात हो गई है। हत्यारोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कुल छह टीमें लगाई हैं। घटना के बाद से हत्यारोपित परिवार समेत घर छोड़कर फरार हो गए हैं।जददुपुर निवासी मकसूदन निषाद से छठ के दिन आर्केस्ट्रा देखने के दौरान गांव के ही श्याम यादव से मारपीट हो गई थी। इसमें श्याम यादव का सिर फट गया था। इस मामले को लेकर श्याम यादव के स्वजन की तहरीर पर पुलिस ने मकसूदन साहनी व पवन साहनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। इससे मकसूदन निषाद के स्वजन व समर्थक नाराज थे। इस बात को लेकर रविवार दोपहर करीब 12 बजे गांव का गुलशन निषाद अपने करीब दर्जन भर साथियों के साथ श्याम यादव का घर घेर लिया। परिवार के लोगों पर लाठी डंडा व असलहे से हमला कर दिया। इस दौरान परिवार के लोगों ने भागकर अपनी जान बचाने की कोशिश की तो बदमाशों ने उन्हें भी दौड़ाकर गोली मार दी। गोली लगने से श्याम यादव के चचेरे भाई 20 वर्षीय विशाल यादव पुत्र रामायण यादव की मौके पर ही मौत हो गई। बड़े पिता 65 वर्षीय रामकिशुन यादव पुत्र स्व. रामजीत यादव, समेत चार लोगों को इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया। वहां चिकित्सकों ने रामकिशुन को मृत घोषित कर दिया।रामकिशुन की नतिनी 22 वर्षीया रिंकी कुमारी पुत्री दीनानाथ दाहिने हाथ में गोली लगी है। उनके पिता दीनानाथ व परिवार की प्रियंका भी गोली लगने से घायल हो गए हैं। प्रिंयका के चेहरे पर गोली का छर्रा लगा है। इससे उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जाती है। घटना के बाद आरोपित असलहा लहराते हुए मौके से निकले। वह अपने-अपने घरों में ताला लगाकर परिवार समेत घर से फरार हो गए हैं। घटना की जानकारी होते ही मौके पर एसपी नार्थ, सीओ चौरीचौरा आदि पहुंच गए। घटनास्थल पर पीएसी समेत झंगहा, चौरीचौरा, गगहा, बेलीपार, खोराबार, पिपराइच थाने की पुलिस लगा दी गई है। हत्यारोपितों की गिरफ्तारी के लिए कुल छह टीमें बनाई गई हैं। दबिश के लिए टीमें रवाना हो चुकी हैं। पुलिस अधीक्षक उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी का कहना है कि अभी तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज किया जाएगा।