यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पिटाई के चलते युवक ने तंग आकर फांसी लगा दे दी जान


🗒 सोमवार, जनवरी 24 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पिटाई के चलते युवक ने  तंग आकर फांसी लगा दे दी जान

गोरखपुर, । बांसगांव के किशुनपुर उर्फ बगही में पिता की पिटाई से तंग आकर 19 वर्षीय प्रशांत शुक्ला ने फांसी लगा ली। वह पानापार का रहने वाला था और बगही में उसका ननिहाल था। प्रशांत के नाना ने दामाद पर मारपीट का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि उसकी पिटाई के चलते प्रशांत ने आत्महत्या की है। पुलिस शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच कर रही है।प्रशांत के नाना ओम प्रकाश पांडेय ने बांसगांव थाने में तहरीर देकर कहा कि उन्होंने 24 वर्ष पूर्व अपनी पुत्री किरन की शादी पानापार में थी। 15 वर्ष पूर्व उसकी मौत हो गई थी। उसके बाद नाती प्रशांत शुक्ला व नातिन अंकिता ननिहाल में ही रह रहे थे। दोनों के बड़े होने पर उनके पिता उन्हें अपने साथ लेते गए। प्रशांत आया और बताया कि पिता ने गांव के एक व्यक्ति के साथ मिलकर उन्हें खूब मारा है। इसके बाद वह रात में भोजन किया और कमरे में सोने चला गया।सुबह उसके कमरे का दरवाजा देर तक नहीं खुला तो कुछ लोगों की मदद से दरवाजा तोड़वाया तो देखा कि कमरे में फंदे से प्रशांत का शव लटका था। पुलिस प्रशांत के पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। प्रभारी निरीक्षक विवेक मलिक ने बताया कि तहरीर मिली है। उ'चाधिकारियों से परामर्श लेकर उचित कार्रवाई की जाएगी।बेलीपार के रूद्राईन उर्फ मझिगावा में 25 वर्षीय प्रभात गौड़ उर्फ गोलू ने फंदे से लटककर जान दे दी। घर में उसकी शादी की तैयारी चल रही थी। उसे देखने के लिए लड़की वाले आने वाले थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।प्रतिदिन की तरह प्रभात रात में अपने कमरे में सोने चले गए। सुबह देर तक जब उसके कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो स्वजन दरवाजा तोड़कर भीतर गए तो शव फंदे से लटका मिला। खाना बेड के नीचे ढका हुआ था। प्रभात अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा था। दो माह पहले वह बेंगलुरु से लौटा था। प्रभारी निरीक्षक बेलीपार दिलीप कुमार पांडेय ने कहा कि प्रथमदृष्टया आत्महत्या की बात सामने आ रही है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।