यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कैंटीन में घुसकर बदमाश ने की फायरिंग


🗒 बुधवार, मार्च 30 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कैंटीन में घुसकर बदमाश ने की फायरिंग

गोरखपुर, । दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के कैंटीन में बदमाशों ने बुधवार दोपहर करीब डेढ़ बजे पिस्टल से हवाई फायरिंग करके सनसनी फैला दी। उसने कैंटीन पर मौजूद कर्मचारी अर्जुन से कहा है कि ठेकेदार से बोल देना कि वह संपर्क कर लेगा। घटना के बाद विश्वविद्यालय परिसर में अफरा-तफरी का माहौल है। मौके पर पहुंची कैंट थाना पुलिस सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन कर रही है।बुधवार दोपहर करीब 1.13 बजे बाइक से दो बदमाश विश्वविद्यालय के कैंटीन में पहुंचे। दोनों बदमाशों में से एक कैंटीन के भीतर पहुंचा और काउंटर के सामने खड़े होकर हवाई फायरिंग की और कर्मचारी अर्जुन से कहा कि ठेकेदार से बोल देना कि संपर्क कर लेगा। बदमाशों के जाते ही अर्जुन ने इसकी सूचना ठीकेदार व पुलिस को दे दी। थोड़ी देर में विश्वविद्यालय चौकी पुलिस व कैंट थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और एक-एक बिंदु की गंभीरता से छानबीन में जुट गई। प्रभारी निरीक्षक कैंट थाना पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है। आरोपित जल्द पकड़ा जाएगा।घटना की जांच स्पेशल इंटेलीजेंस टीम ने भी देखी। टीम ने सीसीटीवी फुटेज भी देखा, लेकिन उससे बहुत कुछ स्पष्ट नहीं हो रहा है। बदमाश दो की संख्या में थे और दोनों के चेहरे खुले हुए थे, लेकिन फुटेज धुंधली होने के कारण उनका चेहरा स्पष्ट नहीं हो रहा है। हालांकि गोली चलने से छत पर बने निशान से लोग आशंका व्यक्त कर रहे हैं कि फायरिंग पिस्टल से की गई है।विश्वविद्यालय की कैंटीन 27 नवंबर 2021 से शुरू हुई है। इसका ठेका रायबरेली के शिवगढ़ निवासी शैलेंद्र प्रताप सिंह के नाम से है। शैलेंद्र रायबरेली के अजय प्रताप सिंह व सुल्तानपुर के प्रभात रंजन सिंह के साथ संयुक्त रूप से इसका संचालन करते हैं। तीनों अक्सर बाहर रहते हैं। शैलेंद्र के दूसरे पार्टनर अजय कुमार सिंह ने बताया कि उनका किसी से विवाद नहीं है। कैंटीन में काम करने वाले लड़के रायबरेली, उन्नाव व लखनऊ से हैं। लोकल में उनका किसी से संपर्क नहीं है। उनका भी किसी से विवाद नहीं है। कर्मचारियों से उन्हें यह पता चला कि कैंटीन के बाहर दो युवक किसी से किसी बात को लेकर विवाद कर रहे थे। बाद में उसमें से एक ने भीतर आकर कैंटीन में गोली चला दी। उन्होंने कहा कि कैंटीन में किसने गोली चलाई, यह उन्हें नहीं मालूम। यह पुलिस ही जांच करके बता सकती है। उन्होंने बताया कि गोली चलने के बाद कैंटीन बंद कर दी गई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।