यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पुलिस मुठभेड़ में छह बदमाश गिरफ्तार


🗒 शुक्रवार, मई 06 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पुलिस मुठभेड़ में छह बदमाश गिरफ्तार

हमीरपुर, । सदर क्षेत्र से विधायक के गांव पौथिया में लूटकांड का शुक्रवार को पुलिस टीम ने छह लुटेरों को गिरफ्तार कर 4.30 लाख के जेवर, 315 बोर के दो तमंचे, कारतूस, 6350 रुपये नकद और वारदात में दो बाइक व दो मोबाइल फोन बरामद किए हैं। सूचना के आधार पर पुलिस टीम ललपुरा के बजेहटा मोड़ के पास लगी थी, इसी बीच बाइकों पर आरोपित निकले। पुलिस ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की तो बदमाशों ने फायर कर दिया, बचाव में पुलिस ने भी फायर करते हुए छह को पकड़ लिया, जबकि तीन मौके से भाग निकले। बचे तीनों बदमाशों को पकड़ने के लिए टीमें गठित की गई हैं। फरार आरोपितों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। वहीं चित्रकूटधाम मंडल के आइजी ने पुलिस टीम को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की है।एसपी कमलेश दीक्षित ने बताया कि 11 अप्रैल को पौथिया के सर्राफ शीलकमल के घर लूट हुई थी। वारदात करने तीन बाइक पर नौ बदमाश आए थे। पुलिस के चुनौतीपूर्ण स्थिति इसलिए थी क्योंकि घटनास्थल के आसपास कैमरे नहीं लगे थे। शुरुआत में 70-80 लाख रुपये की लूट की बात कही गई थी, लेकिन जांच में 12.50 लाख रुपये का मामला सामने आया। एसपी के मुताबिक पुलिस घरवालों के बताए हुलिए के आधार पर रास्तों में लगे कैमरे में कैद हुए लोगों को ट्रेस करने में जुटी हुई थी। सर्विलांस और कैमरों की मदद से बदमाश पकड़े गए।पकड़े गए बदमाशों में शीनू कंजड़ निवासी मोहल्ला तोपखाना उरई हाल पता कांशीराम कालोनी कोंच सुरही चौकी, नंदू उर्फ पवन कंजड़ और दीपक कंजड़ निवासीगण चुर्खी बाईपास उरई, अरविंद कंजड़ निवासी कांशीराम कालोनी उरई, अशोक उर्फ करिया कंजड़ निसी मोहल्ला लहरियापुर उरई और 52 वर्षीय दान सिंह निवासी शीतला मंदिर के पास नया पटेल नगर उरई हैं। इनमें शीनू, नंदू और दीपक सगे भाई हैं। दान सिंह और अरविंद पर कानपुर देहात, जालौन में भी कई मुकदमे दर्ज हैं। मीनू उर्फ अभय कंजड़ मोहल्ला तोपखाना उरई, बच्चू निवासी लक्ष्मी मंदिर के पास रामनगर झांसी रोड उरई और अजय उर्फ कलुवा निवासी लहरियापुर उरई अभी फरार हैं। साथ ही इन आरोपितों ने कन्नौज, छिबरामऊ, जालौन व कानपुर देहात में भी वारदातें की हैं। जिनकी जानकारी संबंधित जिलों की पुलिस को दे दी है।राजफाश करने वाली टीम में सीओ लाइन विनोद कुमार, प्रभारी निरीक्षक ललपुरा श्रीप्रकाश यादव, निरीक्षक रामेंद्र तिवारी, उपनिरीक्षक योगेश कुमार शुक्ला, अजहर जमाल, कांस्टेबल बबलेश कुमार, प्रशांत यादव, कन्हैया त्रिपाठी, काजल और खुशबू की प्रमुख भूमिका रही। आइजी ने इस टीम को 50 हजार का पुरस्कार देने की घोषणा की है।