मौदहा- स्वास्थ्य सेवाओं के नाम पर सरकार की किरकिरी

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मौदहा- स्वास्थ्य सेवाओं के नाम पर सरकार की किरकिरी


🗒 शनिवार, जुलाई 13 2019
🖋 सनद कुमार, मौदहा रिपोर्टर हमीरपुर

प्रदेश सरकार यूपी की स्वास्थ्य सेवाओं को हाईटेक बनाने के लिए भरसक प्रयास कर रही है लेकिन स्वास्थ्य

मौदहा- स्वास्थ्य सेवाओं के नाम पर सरकार की किरकिरी

सेवाओं के नाम पर सरकार की किरकिरी होती रहती है।ऐसा ही एक मामला बिंवार थानाक्षेत्र अन्तर्गत करगांव मे सामने आया

जहां पर रानी पत्नी चन्द्रपाल को जब प्रसव पीडा होने लगी तो उसकी सास चुन्नी और गांव की आशा बहु चतुर कुमारी ने

102,108 एम्बुलेंस को फोन करना आरंभ कर दिया लेकिन बहुत देर फोन करने के बाद भी एम्बुलेंस को फोन नहीं लगा।तो

मजबूरी वश.उन्हें आटो रिक्शा का सहारा लेना पडा।जब वह लोग आटो रिक्शा मे गर्भवती को सीएचसी मौदहा लेकर आरहे थे

तभी मौदहा और कम्हरिया के बीच रानी ने आटो रिक्शा मे एक बच्ची को जन्म दिया।जिसे उसी हालत मे सीएचसी मौदहा लाया

गया जहां पर नवजात बच्ची की साफ सफाई और टीकाकरण की औपचारिकता पूरी की गई।इस मामले मे सीएचसी अधीक्षक

डा.अनिल सचान का कहना है

कि मामले की जानकारी नहीं है यदि ऐसा कोई मामला हुआ है तो हम इसकी अपने स्तर पर जांच करेंगे।

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» हमीरपुर -पीएनसी ने चलाया सड़क सुरक्षा अभियान

» विद्‍यार्थी परिषद द्वारा सम्पन्न हुई प्रतियोगितायें

» विभिन्न मांगों को लेकर ऑल इंडिया इलाहाबाद बैंक ऑफिसर ने किया धरना प्रदर्शन

» राज्यमंत्री रविंद्र जायसवाल ने कहा, प्रियंका वाड्रा मेंटल हैं, उनका मेंटल केस बन चुका है

» हमीरपुर मे तीन शादी रचाने वाली महिला के दो पति आपस में भिड़े

 

नवीन समाचार व लेख

» पूर्वांचल में स्लीपर माड्यूल सक्रिय, राशिद के दोस्तों से भी हुई पूछताछ, मोबाइल से मिले कई वीडियो

» इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कोर्ट सरकार को नहीं दे सकती जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने का निर्देश

» मस्जिद में अजान के लिए लाउडस्पीकर बजाने की अनुमति न देने पर हाई कोर्ट का हस्तक्षेप से इन्कार

» लखनऊ के चिनहट स्थित घर में रहने वाली युवती की हत्या का हुआ था प्रयास युवती के गांव का ही निकला आरोपित

» राज्य कर्मचारियों ने काम ठप कर सीएम योगी को भेजा ज्ञापन