यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नहीं मिली दूसरी किस्त, खुले में सोने को मजबूर लाभार्थी


🗒 सोमवार, जुलाई 29 2019
🖋 सुमित शिवहरे, ब्लाकमौदहा संवाददाता हमीरपुर

राठ : पहली किस्त आने की खुशी में कच्चा आशियाना ढहाकर प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र बनी दो महिलाओं ने पक्के मकान की नींव डाल दी। घोर लापरवाही सामने आने पर अधिकारियों ने दूसरी किस्त आने से मना कर दिया। अब दोनों महिलाएं अपने परिजनों के साथ खुले आसमां तले सोने को मजबूर है।

नहीं मिली दूसरी किस्त, खुले में सोने को मजबूर लाभार्थी

मझगवां गांव की तुलसा रानी पत्नी कमला और सावित्री पत्नी देवेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन किया था। जिसमें अधिकारियों व कर्मचारियों ने सर्वे किया था। जिसमें वह लोग पात्र बन गए तथा उनके खाते में चालीस चालीस हजार रुपए आ गए। पक्के मकान के लिए पहली किस्त आने की खुशी में दोनों महिलाओं ने कच्चा आशियाना ढहा दिया और किस्त में आए रुपयों से निर्माण सामग्री खरीदकर पक्के मकान की नींव रख दी। अब विभाग दोनों महिलाओं को अपात्र बनाकर दूसरी किस्त नहीं दे रहा है। इधर कच्चे मकानों को गिराकर दोनों परिवार बरसात के मौसम में खुले आसमां तले दिन रात गुजारने को मजबूर हो रहे है। विभाग के चक्कर काट रहे है लेकिन गरीब महिलाओं की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। महिलाएं बेहद गरीब है और मजदूरी कर परिवार का गुजारा कर रही है।खंड विकास अधिकारी शशी देवी ने बताया कि पात्र महिलाओं की धनराशि गलती से दोनों महिलाओं के नाम एक होने के कारण ही बैंक खाते में आ गई है। इन महिलाओं ने आवेदन किया है पात्र होते ही धनराशि दी जाएगी।

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» कुरारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टरों की मनमानी चालू

» बच्चे को सकुशल बरामद कर परिजनों को सुपुर्द किया गया

» बालिकाओं की सुरक्षा के लिए चलाए जा रहे अभियान में दो गोल्ड मेडल व एक ब्रोंज मेडल के साथ नाम रोशन किया

» दो वाहनों की आपस में टक्कर हालत गंभीर

» ऋषि पंचमी जलविहार मेला संपन्न

 

नवीन समाचार व लेख

» यस यू सी आई पार्टी के कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों ने बिजली दरों में की गई बढ़ोतरी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया

» अधिवक्ता पर हुआ हमला

» कांग्रेश ने उम्मीदवार के नाम की घोषणा कि

» मुकदमें में वांछित अभियुक्त चढ़ा सिगरा पुलिस के हत्थे

» अध्यापको का एरियर एवं बकाया वेतन पहले आओ पहले पाओ के सिद्धांत से होगा