यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ट्रैवल्स एजेंसियों पर कसा जा रहा है शिकंजा


🗒 शनिवार, जुलाई 17 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
ट्रैवल्स एजेंसियों पर कसा जा रहा है शिकंजा


हमीरपुर।जिले में फर्जी तरीके से ट्रैवल्स एजेंसी चलाने का कारोबार पिछले कई सालों से धड़ल्ले से चल रहा है। प्राइवेट बसें सारे नियमों को ताक पर रखकर सवारियों को सदर बस स्टॉप से भरती है! जिला प्रशासन ने शिकायत पर संयुक्त टीम बनाकर ट्रैवल्स एजेंसियों के ऑफिस में छापा मारकर बिना रजिस्ट्रेशन चल रही ट्रैवल एजेंसियों को बंद करने के निर्देश दिए हैं। जिला मुख्यालय में एक दर्जन ट्रैवल्स एजेंसी चल रही है! जिसमें सिर्फ एक एजेंसी संचालक ही ट्रैवल्स एजेंसी का रजिस्ट्रेशन कराएं हैं।फर्जी तरीके से चल रही ट्रेबल्स एजेंसियों से परिवहन विभाग को बड़ा नुकसान झेलना पड़ रहा है।
जिला मुख्यालय में सदर बस स्टॉप के आस-पास दर्जनों की संख्या में प्राइवेट ट्रेवल्स एजेंसियों के पिछले कई सालों से ऑफिस खुले हैं। ट्रैवल्स एजेंसियों की बसें सरकारी बस स्टॉप के सामने से सारे नियमों को ताक पर रखकर सवारिया भर्ती हैं। कई बार हुई शिकायतों के बाद जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने संयुक्त टीम बनाकर फर्जी तरीके से चल रही ट्रेवल्स एजेंसी की जांच के निर्देश दिए थे। जिस पर जिला प्रशासन की टीम ने एजेंसियों के ऑफिस में छापा मारा तो एक एजेंसी संचालक को छोड़कर कोई भी अपना रजिस्ट्रेशन नहीं दिखा सका। छापा मारने पहुंची एआरएम, एआरटीओ और एसडीएम की टीम ने बिना रजिस्ट्रेशन चल रहा है। ट्रेवल्स के ऑफिसों को तुरंत बंद करने के निर्देश दिए हैं!संयुक्त टीम की कार्यवाही से फर्जी ट्रैवल्स एजेंसी चला रहे संचालकों में हड़कंप मच गया है। तथा संयुक्त टीम द्वारा फर्जी प्रवेश एजेंसियों के बैनर ओं को हटवा दिया गया।

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» शिक्षामित्र पर दो छात्राओं से दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज

» प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में सफल हुए छात्रों को दिया गया प्रमाण पत्र

» जिला अस्पताल में लगी भीषण आग

» सिपाही ने दुष्कर्म करने के बाद बनाया वीडियो, किया गया निलंबित

» बुंदेलखंड राज्य की मांग को फलीभूत करेगा कार्यक्रम का संचालन