यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

 एनजीटी के नियमों की उड़ाई जा रही धज्जियां - अवैध खनन सरीला


🗒 शुक्रवार, नवंबर 12 2021
🖋 अजय कुमार शुक्ला, ब्यूरो प्रमुख हमीरपुर
  एनजीटी के नियमों की उड़ाई जा रही धज्जियां  - अवैध खनन सरीला

हमीरपुर ब्यूरो-: अजय शुक्ला 

 

हमीरपुर के सरीला तहसील क्षेत्र में भेड़ी  खरका चंदवारी  घुरौली में बडेरा खालसा रिरुआ बसरिया मसीनो का प्रयोग करने के साथ साथ नदी की जलधारा से खिलवाड़ किया जा रहा है घुरौली स्थिति बेतवा नदी की जलधारा को प्रभावित कर आधा दर्जन भारी-भरकम मशीनों से मानक के विपरीत अवैध खनन हो रहा है। खनन माफिया  बेतवा नदी में पानी के अंदर से लाल सोना निकालने में जुटे हुए हैं।

 बुंदेलखंड के चर्चा में बने रहने वाले हमीरपुर जिले में अवैध खनन थमने का नाम नहीं ले रहा है। जहां पर मौरंग माफिया न्यायालय के निर्देशों की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं।  खदानों में  भारी भरकम प्रतिबंधित मशीनों से अवैध खनन करने का सिलसिला मोरंग माफियाओं के गुर्गों द्वारा किया जा रहा है। एनजीटी के नियमों को ताक में रखकर दिन-रात मानक के विपरीत अवैध खनन किया जा रहा है।

नदी की जलधारा रोक किया जा रहा अवैध खनन 

 चिकासी थाना क्षेत्र के घुरौली खंड संख्या 26/3 मे भारी भरकम मशीनों द्वारा बीच जलधारा से खनन का कारोबार जारी है।मौरंग खनन संचालक द्वारा बेतवा नदी की जलधारा को प्रभावित कर उस पर पुल बनाकर भारी भरकम प्रतिबंधित मशीनों द्वारा लाल सोने की निकासी की जा रही है। खनन माफिया को प्रशासन का जरा भी डर नहीं है रात  और दिन खनन के  कार्य में लगा हुआ है। साथ ही जमकर ओवरलोड परिवहन किया जा रहा है।जिसके चलते राजस्व का भारी मात्रा से हनन हो रहा है। लेकिन जिला प्रशासन अनजान बना बैठा है। इन माफियाओं के विरुद्ध कोई कार्यवाही ना होने से जिले के आला अधिकारी खनन माफियाओं को शह देकर अवैध खनन कराने में मसगुल है। खनन माफिया द्वारा अधिकारियों की लोकेशन लेने हेतु लोकेटर को भी लगाया गया हैं । यदि कोई प्रशासनिक अधिकारी खनन क्षेत्र की तरफ जाता है तो लोकेटर द्वारा खनन माफियाओं को जानकारी हासिल हो जाती है।  और पहले से ही सचेत होकर वैध खनन करने का प्रयास करने लगते हैं।बुंदेलखंड के किसानों के लिए सूखा भले ही अभिशाप बना हो, लेकिन यह सूखा खनन कारोबार से जुड़े माफियाओं के लिए वरदान साबित हो रहा है। नदियों का जलस्तर घट जाने का बेजा लाभ उठाते हुए कारोबारी पुलिस और प्रशासन के गठजोड़ से 'लाल सोना' यानी मौरंग लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। घुरौली खंड सं0 26/3 मे बेतवा नदी मे अवैध पुल बनाकर जलधारा तक बदल दी गई है और पोकलैंड व जेसीबी मशीनों के जरिए नदी की कोख खाली कर मोरंग का परिवहन किया जा रहा है। हालांकि खनिज अधिकारी मो0 महबूब ने  खनिज स्पेक्टर परशुराम को मौके पर जाकर  जांच के आदेश दिए  हैं। उपजिलाधिकारी खालिद अंजुम ने बताया मामले की जांच की जा रही है।

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» हमीरपुर गैंगेस्टर के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

» मौदहा क्षेत्र में रातों-रात मनरेगा कार्यों में गरज रही जेसीबी मशीन।

» मसाला कारोबारी भाईयों के बिछौने से 6.31 करोड़ रुपये की नकदी मिली

» मौदहा - प्रेमी युवक की बेहरमी से हत्या

» भीषण गर्मी में नगरपालिका के फ्रीजरो़ ने दिया जवाब

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरा गाँव मेरी धरोहर के अंतर्गत ग्राम पंचायतों के सांस्कृतिक धरोहरों का किया जाएगा सर्वे

» प्राचीन तालाबांे और कुओं से हटवाया जाये अतिक्रमण

» डीएम को पत्र लिख उठाई जल भराव समस्या का निदान करने की मांग

» अज्ञात कारणो के चलते युवक ने लगाई फांसी, मौत

» खेत के पास अज्ञात वृद्ध का मिला शव, फैली सनसनी