यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सभी केंद्रों में मनाया गया ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस


🗒 रविवार, दिसंबर 05 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
सभी केंद्रों में मनाया गया ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस

 

-सात नए स्वास्थ्य केंद्र पर शुरू हुई सेवाएं

- दूरदराज के ग्रामीणों को घर के पास ही मिलेंगी स्वास्थ्य सेवाएं

हमीरपुर। साल 2021 खत्म होते-होते जनपद को सात नए उपकेंद्रों की सौगत मिली है। जनपद के सात विकासखण्डों में एक-एक नवीन स्वास्थ्य उपकेंद्र को किराए के भवन में संचालित किया गया है। इन उपकेंद्रों के माध्यम से ग्रामीणों को घर के पास ही उपचार मिल सकेगा। ग्रामीणों को छोटी-मोटी बीमारियों और दवाओं के लिए दौड़भाग भी नहीं करनी होगी। नवजात शिशुओं से लेकर किशोर-किशोरियों के नियमित टीकाकरण और अन्य स्वास्थ्य और पोषण संबंधी समस्याओं का निराकरण होगा।
जनपद के हरदुआ, चंदवारी डांडा, टोडरपुर, छिमौली, शिवनी, पहाड़ीगढ़ी और कुम्हऊपुर ऐसे गांव हैं, जो बीहड़ों में आबाद हैं। इन गांवों के बाशिंदों को छोटी-मोटी बीमारियों और बच्चों के टीका लगवाने को लेकर काफी दूर तक दौड़-भागनी करनी पड़ती रही है। साधनों के अभाव की वजह से वापस लौटने में दिक्कतें होती थी। इन्हीं समस्याओं को देखते हुए इन सभी गांवों में नवीन स्वास्थ्य उपकेंद्र खोले गए हैं, जहां सभी तरह की स्वास्थ्य और पोषण संबंधी सुविधाएं ग्रामीणों को आसानी से मिल सकेंगी।
शनिवार को इन सभी उपकेंद्रों में स्वास्थ्य सेवाएं शुरू कर दी गई। संबंधित गांवों की एएनएम की देखरेख में उपकेंद्रों में ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (वीएचएनडी) का भी आयोजन किया गया। इस मौके पर उपकेंद्रों में नवजात शिशुओं से लेकर पांच साल तक के बच्चों को जानलेवा बीमारियों के टीके लगाए गए। ग्रामीणों को फाइलेरिया उन्मूलन अभियान के विषय में जानकारी देकर दवा खाने को लेकर प्रोत्साहित किया गया।
इसके अलावा किशोर-किशोरियों की स्वास्थ्य और पोषण संबंधी समस्याओं और शंकाओं का समाधान किया गया। योग्य दंपतियों को परिवार नियोजन के विषय में जानकारी दी गई। साथ ही पुरुषों को भी नसबंदी ऑपरेशन कराने को लेकर जागरूक किया।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके रावत ने बताया कि जनपद में अभी तक 214 स्वास्थ्य उपकेंद्र हैं, इन सात नए केंद्रों के साथ अब 221 केंद्र हो चुके हैं। इन केंद्रों के माध्यम से दूरदराज के लोगों को घर के पास ही समुचित उपचार मुहैया कराया जा रहा है। गंभीर मामलों को उच्च चिकित्सा के लिए रेफर कर दिया जाता है। जिला सामुदायिक प्रक्रिया प्रबंधक (डीसीपीएम) मंजरी गुप्ता ने बताया कि आज जिन उपकेंद्रों का संचालन शुरू हुआ है, वहां क्षेत्र की एएनएम की मौजूदगी में ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस मनाया गया।

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» पुरानी रंजिश में युवक की गोली मारकर हत्या

» कैंपर ने डीसीएम में मारी टक्कर, एक की मौत व चार घायल

» दो ट्रकों की आमने-सामने भिड़ंत, खलासी की मौत

» तीन अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरफ्तार

» आदिवासी समाज की महामहिम बनने पर विधायक व चेयरमैन ने उनके समाज को किया सम्मानित

 

नवीन समाचार व लेख

» अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद लखनऊ दक्षिण छात्राओं ने पुलिसकर्मियों संग मनाया रक्षा बंधन

» भारत रत्न अटल की स्मृति में

» आज़ादी के अमृत महोत्सव पर तिरंगे रंग से सरोबार अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

» गोली चलाने की घटना के फरार चल रहे दो आरोपि गिरफ्तार

» युवक पर नाबालिग बेटी को 5 घंटे तक गायब रखने का आरोप