यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूरिया खाद आते ही सहकारी समितियों पर किसानों की उमड़ी भीड़


🗒 रविवार, दिसंबर 05 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
यूरिया खाद आते ही सहकारी समितियों पर किसानों की उमड़ी भीड़

 

मौदहा हमीरपुर। एक सप्ताह से किसान अपनी फसलों के लिए यूरिया खाद को भटकता रहा है। कृषक योगेंद्र सिंह गुरदहा ने बताया कि वह अपनी फसल में सिचाई के बाद यूरिया का छिड़काव करना है। खाद न होने से उसकी फसल सूख रही है और रविवार सुबह से ही लाइन में लगे रहने के बावजूद भी सिर्फ दो बोरी खाद ही मिल सकी। गांव की ब्रजरानी ने बताया कि जितनी खाद की आवश्यकता थी उतनी खाद ही नहीं मिली। अब फिर भटकना पड़ेगा। इसी तरह ग्राम परछा के किसान मानसिंह, बिगहना के अरिमर्दन आदि ने भी खाद की किल्लत का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें रविवार को खाद वितरण की जानकारी मिलते ही लाइन पर आकर खड़े हो गए। इसके बाद भी उन्हें शाम 4:00 बजे तक खाद नहीं मिल सकी। सहकारिता के सहायक विकास खंड अधिकारी बृजमोहन पटेल ने बताया कि खाद की कोई कमी नहीं है। क्रय विक्रय समिति में 500 बोरी व सिसोलर में 400 बोरी खाद शनिवार रात आ गई थी तथा अन्य स्थानों पर भी खाद उपलब्ध है। जिन स्थानों पर खाद रविवार को उपलब्ध नहीं हो सकी वहां सोमवार तक खाद अवश्य आ जाएगी और खाद की कमी नहीं रहेगी

हमीरपुर से अन्य समाचार व लेख

» पुरानी रंजिश में युवक की गोली मारकर हत्या

» कैंपर ने डीसीएम में मारी टक्कर, एक की मौत व चार घायल

» दो ट्रकों की आमने-सामने भिड़ंत, खलासी की मौत

» तीन अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरफ्तार

» आदिवासी समाज की महामहिम बनने पर विधायक व चेयरमैन ने उनके समाज को किया सम्मानित