हरदोई में किशोर की हत्या का राजफाश, दो भाई समेत तीन गिरफ्तार

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

हरदोई में किशोर की हत्या का राजफाश, दो भाई समेत तीन गिरफ्तार


🗒 शनिवार, अक्टूबर 31 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
हरदोई में किशोर की हत्या का राजफाश, दो भाई समेत तीन गिरफ्तार

हरदोई, सुरसा थाना क्षेत्र के सथरी मजरहा खुजरहरा में 19 अक्टूबर की रात हुए हत्याकांड का पुलिस ने राजफाश कर लिया है। एफआइआर में नामजदगी गलत निकली। गांव के ही तीन अन्य लोगों ने अपनी भांजी से नजदीकी को लेकर युवक को खेत में ले जाकर उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर उनके पास से हत्या में प्रयुक्त की गई दराती को भी बरामद कर लिया है।पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि रोशन की हत्या कर शव को खेत में फेंक दिया गया था। मृतक के भाई वीरू ने गांव अहिवरन, रामचंद्र, विपिन और छोटे के खिलाफ हत्या की एफआइआर दर्ज कराई थी। वीरू का कहना था कि अहिवरन की उसकी मां से नजदीकी थी, जिसका रोशन विरोध करता था,उसी को लेकर अहिवरन ने अन्य लोगों के साथ मिलकर रोशन की हत्या कर शव फेंक दिया था। एसपी ने बताया कि पुलिस ने जब गहराई से छानबीन की तो मामला कुछ और निकला। गांव के ही शीतला ने अपने भाई माया प्रकाश व रामप्रसाद के साथ मिलकर रोशन की हत्या कर शव को खेत में फेंक दिया था। एसपी ने बताया कि रोशन की शीतला की झोपड़ी पास पास में ही हैं। शीतला की भांजी उसके पास ही रहती है। रोशन की उससे नजदीकी थी और उससे बातचीत करता था। जब शीतला विरोध करता तो वह गाली गलौज भी करता था। 19 अक्टूबर की रात शीतला जब घर लौटा तो उसने रोशन को अपनी भांजी के साथ देखा, भांजी को तो उसने कमरे में बंद कर दिया और रोशन को समझाने लगा, लेकिन जब वह नहीं माना तो शीतला ने माया प्रकाश व रामप्रसाद को भी बुला लिया और फिर तीनों रोशन को खेत की तरफ लेकर गए। वहीं पर हत्या कर शव को फेंक दिया। शीतला को पता था कि रोशन अपनी मां और अहिवरन के संबंधों का विरोध करता है और विवाद भी हो चुका था। उसी का फायदा उसने उठाया। खुद रोशन की हत्या कर दी और उसके भाई वीरू को बरगलाकर अहिवहन समेत चार के खिलाफ एफआइआर दर्ज करा दी। शीतला, वीरू को अपनी बात पर डटे रहने लिए भी कहता रहता था।हत्या कर शव की कराते रहे तलाशशीतला खुद हत्या करने के बाद 20 तारीख को शव तलाश भी कराता रहा, लेकिन उसकी एक बात ही उसकी फांस बन गई। पुलिस ने जब वीरू से पूछा कि सबसे पहले शव किसन देखा था तो वीरू ने बताया कि शीतला ने कहा था कि उधर जाकर भी देख लो। जब वह लोग गए तो वहीं पर शव मिला।

हरदोई से अन्य समाचार व लेख

» आठ माह से गायब युवती का कब्र में मिला कंकाल, प्रेमी व पिता गिरफ्तार

» दुष्कर्म की एफआइआर दर्ज होने से आहत युवक ने की आत्‍महत्‍या

» एक हजार रुपये के ल‍िए युवक की गोली मारकर हत्या

» रोडवेज बस और पिकअप की जोरदार टक्कर, चालक समेत दो की मौत

» पेशी से लौट रहे युवक की पीट-पीटकर हत्या